--Advertisement--

नि:शुल्क कोचिंग: 206 छात्रों ने दी प्रवेश परीक्षा

कबीरधाम जिला प्रशासन द्वारा पिछले साल 60 लाख रुपए खर्च कर करीब 2 सौ से अधिक स्टूडेंट्स को आईअाईटी व मेडिकल कॉलेजों...

Danik Bhaskar | Jun 21, 2018, 02:40 AM IST
कबीरधाम जिला प्रशासन द्वारा पिछले साल 60 लाख रुपए खर्च कर करीब 2 सौ से अधिक स्टूडेंट्स को आईअाईटी व मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए नीट व जेईई की नि:शुल्क काेचिंग की व्यवस्था की गई। लेकिन परीक्षा का परिणाम इस साल सही नहीं रहा,कोचिंग से एक भी स्टूडेंट का मेडिकल व आईआईटी में दाखिला नहीं हो सका।

इस बार फिर 100 बच्चों को कोचिंग दिया जाएगा। इस कोचिंग में प्रवेश के लिए बुधवार को कचहरी पारा हायर सेकण्डरी स्कूल में प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई। परीक्षा में जिले के टॉपर स्टूडेंट्स का रुझान कम दिखाई दिया।परीक्षा में केवल 206 स्टूडेंट ही शामिल हुए हैं। परीक्षा 11 से 1 बजे तक आयोजित की गई।

स्टूडेंट्स की संख्या कम, प्राचार्य ने नहींं दी जानकारी: कोचिंग के प्रवेश परीक्षा मे स्टूडेंट की संख्या कम होने से शिक्षा विभाग परेशानी बढ़ा दी हैं। शिक्षा विभाग उन बच्चों को कोचिंग देना चाहता था जो बच्चे कक्षा 12वीं में 70 फीसदी अंक से उत्तीर्ण किए हो। जिले में इस साल विज्ञान व गणित समूह से करीब 2 हजार से अधिक बच्चे 80 फीसदी से अधिक अंक हासिल किए हैं। कक्षा 10वीं में भी अच्छा रिजल्ट रहा हैं।

लेकिन 2 हजार से अधिक बच्चे अच्छा अंक हासिल करके इस कोचिंग में जाना पसंद नही कर रहे हैं। वहीं इस परीक्षा को लेकर जिले के 164 हाई-हायर सेकण्डरी स्कूलों के प्राचार्य को 15 जून को आदेश जारी किया गया था। लेकिन 122 हाई व हायर सेकण्डरी स्कूल के प्राचार्यों ने अपने स्कूल के टॉपर बच्चों को कोचिंग में प्रवेश परीक्षा दिलाने को लेकर रुचि नहीं दिखाई। परीक्षा में केवल 42 स्कूल के बच्चे शामिल हुए। इस संबंध में पैरेंट्स को भी जागरूक किया जा रहा है।

अपेक्षित संख्या से कम छात्र पहंुचे, 100 छात्रों को आईआईटी व मेडिकल कॉलेज में दाखिले के लिए दी जाएगी काेचिंग

कवर्धा.कोचिंग में प्रवेश के लिए हुी प्रवेश परीक्षा में शामिल छात्र।

माइनस मार्किंग नहीं

इस आवासीय कोचिंग के लिए जेईई में 40 व नीट के लिए 60 स्टूडेंट का लक्ष्य रखा गया हैं। जेईई परीक्षा के लिए एससी 5, एसटी 8, ओबीसी 6 व अनारक्षित के लिए 21 सीट इसी प्रकार नीट के लिए एससी 8, एसटी 13, ओबीसी 8 व अनारक्षित के लिए 31 सीट निर्धारित है। परीक्षा 60 अंकों के लिए आयोजित की गई।

कम हुअा तो दोबारा परीक्षा