Hindi News »Chhatisgarh »Kawardha» पीएम की सभा में भीड़ बढ़ाने में लगाई 80 बसें, सिर्फ डीजल पर 5 लाख खर्च, इधर यात्री करते रहे इंतजार

पीएम की सभा में भीड़ बढ़ाने में लगाई 80 बसें, सिर्फ डीजल पर 5 लाख खर्च, इधर यात्री करते रहे इंतजार

भिलाई में प्रधानमंत्री की सभा में भीड़ बढ़ाने के लिए 80 बसें कब्जे में ली गईं। इनमें 47 पैसेंजर बसें शामिल थीं। इन बसों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 15, 2018, 02:45 AM IST

पीएम की सभा में भीड़ बढ़ाने में लगाई 80 बसें, सिर्फ डीजल पर 5 लाख खर्च, इधर यात्री करते रहे इंतजार
भिलाई में प्रधानमंत्री की सभा में भीड़ बढ़ाने के लिए 80 बसें कब्जे में ली गईं। इनमें 47 पैसेंजर बसें शामिल थीं। इन बसों में करीब 5 लाख रुपए के डीजल भरवाने पर्ची जारी की गई। फिर इनमें कार्यकर्ता मजे से सभा के लिए रवाना हुए, जबकि बसों के अधिग्रहण से लोग त्रस्त हुए।

आमतौर पर कवर्धा बस स्टैंड में विभिन्न रुटों के लिए हर 10 मिनट में बसें मिल जाती हैं, लेकिन अधिग्रहण के कारण यात्रियों को 2 से 3 घंटे तक इंतजार करना पड़ा। बसें मिली भी, तो भीड़ के कारण यात्रियों को सीट नहीं मिली। सबसे ज्यादा परेशानी रबेली, मोहगांव, चिल्फी, ठाठापुर, बाजार चारभाठा, थान खम्हरिया (बेमेतरा), गंडई (राजनांदगांव) और अन्य ग्रामीण रुट के यात्रियों को हुई, क्योंकि उनके लिए बसें ही नहीं मिली। मजबूरीवश टैक्सियों के पीछे लटककर सफर करना पड़ा।

कवर्धा.अधिग्रहित बसों से सभा में शामिल होने जाते कार्यकर्ता।

पुलिस भर्ती : राजनांदगांव के लिए लिफ्ट ली

सीन 1.कवर्धा के आशुतोष वर्मा को पुलिस भर्ती के लिए राजनांदगांव जाना था। 1 घंटे तक इंतजार करने पर भी बस नहीं मिल रही थी। तो उसने कॉल कर दोस्त को बुलाया। बाइक से लिफ्ट लेकर राजनांदगांव रवाना हुआ।

सीन 3. ग्राम पंडरीपानी निवासी तिरखू बैगा, गौथूल, दीनू समेत 4 अन्य महिलाएं प्रतीक्षालय में बैठे थे। वे गुरुवार सुबह ही रायपुर से यहां आए थे। पूछने पर मालूम हुआ कि उस रुट की एक भी बस नहीं है, तो टैक्सी से जाना पड़ा।

सीन 2.रैतापारा निवासी बखेलिन बाई सुबह पौने 12 बजे कवर्धा पहुंची। वह बीमार मां को देखने के लिए मायके रामपुर (ठाठापुर) के लिए बस का इंतजार कर रही थी, लेकिन उस रूट पर एक भी बस नहीं चली।

एवरेज पूछकर दी डीजल पर्ची

मालिकों से बसों का एवरेज पूछकर किसी को 60 लीटर, तो किसी को 100 लीटर डीजल की पर्ची दी। प्रति बस औसतन 80 लीटर के हिसाब से 80 बसों को 6400 लीटर डीजल की पर्ची काटी गई, जिस पर 74.60 प्रति लीटर के हिसाब से 4,77440 खर्च किया गया है।

सीधी बात

पीएस ध्रुव, अपर कलेक्टर, कबीरधाम

आरटीओ वाले बताएंगे...

सभा के लिए जो बसें अधिग्रहित की गई हैं, उनमें कितने के डीजल भरवाए गए?

- कितने का डीजल डलवाए हैं, मुझे इसकी जानकारी नहीं है।

..तो डीजल का भुगतान प्रशासन स्तर से नहीं हो रहा?

- मैं नहीं जानता, आरटीआे वाले बताएंगे।

आम लोगों का ध्यान क्यों नहीं रखते?

- बसों का अधिग्रहण नहीं हुआ। अधिग्रहण होता, तो आदेश जारी होता है। अधिग्रहण संबंधी आदेश यहां से जारी नहीं हुआ है।

150 बसों के अधिग्रहण से यात्री होते रहे परेशान

भास्कर न्यूज | बेमेतरा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सभा में भीड़ जुटाने के लिए यात्री बसों का अधिग्रहण किए जाने से 14 जून को यात्री परेशान रहे। मोदी की सभा स्थल तक पहुंचाने के लिए जिले भर से 150 यात्री व स्कूल बसों का अधिग्रहण किया गया। कवर्धा, रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, मुंगेली मार्ग पर यात्रा करने वाले यात्रियों को बस स्टैण्ड में बस के लिए 3-4 घंटे से अधिक इंतजार करना पड़ा। बस आॅपरेटर कमल ठाकुर ने बताया कि बसों के अधिग्रहण से 5 हजार यात्री प्रभावित हुए हैं।

करीब 15 हजार सभा में हुए शामिल :- करीब एक हजार से अधिक छोटे बड़े वाहन से बेमेतरा जिले से लगभग 15 हजार लोग मोदी की सभा में पहुंचे।

बच्चे गर्मी में हलाकान होते रहे :-संदीप सतनामी, रामबाई व भवानी ने बताया कि नवागढ़ जाने के लिए 2 घंटे से बस का इंतजार कर रहे हैं। बस आ नहीं रही है। गर्मी में बच्चों के साथ यहां बैठे है। पानी की भी व्यवस्था नहीं है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kawardha

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×