• Home
  • Chhattisgarh News
  • Kawardha
  • घरों में सेवई सहित अन्य पकवान बनाए गए, लोगों का मुंह मीठा करवाया गया
--Advertisement--

घरों में सेवई सहित अन्य पकवान बनाए गए, लोगों का मुंह मीठा करवाया गया

भास्कर न्यूज | रांका/बेमेतरा ईदुल फितर रांका में शनिवार को हर्षोल्लास से मनाया गया। गांव के मदरसा तलीमुल कुरान...

Danik Bhaskar | Jun 17, 2018, 02:45 AM IST
भास्कर न्यूज | रांका/बेमेतरा

ईदुल फितर रांका में शनिवार को हर्षोल्लास से मनाया गया। गांव के मदरसा तलीमुल कुरान मस्जिद में समाज के लोगों ने सुबह 9 बजे ईद की नमाज पढ़ी। इसके बाद समाज के लोगों ने एक दूसरे को गले मिलकर ईदुल फितर की मुबारक दी और आपसी भाई चारे का संदेश दिया। इस अवसर पर लोगों में उत्साह देखा गया।

इस अ‌वसर पर त्योहार में मुसलमान भाई और बहने रोजा रख के महीने भर इबादत करते हैं। समुदाय के लोग अपने करीबी व रिश्तेदारों के घर जाकर सेवई खाकर अपनी खुशी का इजहार किया। लोगों में उत्साह देखा गया। गांव में समाज के लोगों ने अपने व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद रखा।

इस अवसर पर सईद खान, अल्ताफ खान, अब्दुल रजाक, इसरार अहमद, शेख शरीफ कुरैशी, साबिर मोहम्मद, शब्बीर अहमद, रफिक मोहम्मद, हनीफ मोहम्मद, असलम, अकरम खान, नबी खान, अजहर नियाजी, सिबली, ईसरार नियाजी, मिन्हाज, सहबाज नियाजी, जाकिर, शरीफ खान, रासिद, कासिम बेग, अफजाल, रासीद खान, इशहाक खान, अतीक खान, अनस, अनवार फारूक नियाजी, अकिल अहमद समेत मुस्लिम समाज के लोग उपस्थित थे।

रांका/बेमेतरा.मस्जिद में त्योहार मनाते मुस्लिम समाज के लोग

कवर्धा के जामा मस्जिद में नमाज के बाद मांगी दुआएं

कवर्धा. नमाज के बाद गले मिलकर दी बधाई।

कवर्धा|ईद की खुशियों को मुसलमानों ने नमाज के बाद एक-दूसरे को मुबारकबाद के साथ शुरू किया। शनिवार सुबह 9 बजे नए कपड़ाें में ईदगाह पहुंचे और सभी छोटे-बड़ों ने ईद-उल-फितर की नमाज अता की। नमाज अदा करने के बाद सभी के हाथ देश के अमन चैन की दुआ मांगने के लिए उठी। कवर्धा के जामा मस्जिद, पोंडी और पांडातराई के ईदगाह में भी नमाज अता की गई।

ईद की नमाज पढ़ी, सेवइयों की खुशबू बिखरी, हर तरफ उत्साह

चांद का दीदार होते ही ईद की खुशियां बिखरी

नांदघाट। रमजान के तीस रोजे के बाद चांद का दीदार होते ही मुस्लिम जमात में ईद-उल-फितर की खुशियां बिखर गई और शनिवार को धूमधाम से त्योहार मनाया। सुबह होते ही मुस्लिम भाई स्थानीय रजा मस्जिद में नमाज अता कर अमन व चैन की दुआएं मांगी। इमाम ने खुतबा करने के बाद अल्लाह की इबादत में नमाज अता किया। इस दौरान मो.इशाक बांठिया, यूनुस बांठिया, इस्माइल बांठिया, रुस्तम बांठिया, कलीम बांठिया आदि मौजूद रहे।

रमजान त्याग व बलिदान के साथ सब्र का महीना भी है: इमाम हुसैन

कोदवा। इदुल फितर का त्योहार मुस्लिम जमात ने शनिवार को पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया। जामा मस्जिद के इमाम सय्यद मुसकराते हुसैन ने ईद की नमाज अता कराई। नमाज के बाद देश में अमन, चैन, शांति व भाईचारे की दुआएं मांगी गई। इमाम हुसैन ने कहा कि रमजान त्याग व बलिदान के साथ ही सब्र का महीना भी है। इसमें रोजा रखकर गरीबों व दुखियों के दर्द का एहसास किया जाता है, जिससे गरीबों की मदद कर उसके आंसू पोंछ सके। उन्होंने कहा कि इंसान को चाहिए कि खुदा की रजा के लिए अखलाक मोहब्बत बिखेरते रहे।

नांदघाट. ईद पर मस्जिद को सजाया गया।

एकता और भाईचारे का संदेश देती है ईद: मुसीर

थान खम्हरिया.ईद के मौके पर नमाज अता की गई।

थान खम्हरिया। मुस्लिम समाज ने शनिवार को ईदुल फितर का त्योहार हर्षोल्लास के साथ मनाया। नमाज अदा करने के बाद मुस्लिम भाइयों ने एक दूसरे से गले मिलकर ईद की बधाई दी। जामा मस्जिद के इमाम सय्यद मुसकराते हुसैन की अगुवाई में ईद की नमाज अता की गई। मुसीर हुसैन ने कहा कि ईद का त्योहार राष्ट्रीय एकता व भाईचारे का पैगाम देता है।