Hindi News »Chhatisgarh »Kawardha» नालों से गुजरा पाइप देख सीएमओ से सांसद बोले- क्या ऐसे पहुंचता है पानी

नालों से गुजरा पाइप देख सीएमओ से सांसद बोले- क्या ऐसे पहुंचता है पानी

सांसद अभिषेक सिंह सोमवार की सुबह अचानक शहर में वार्डों का जायजा लेने निकल पड़े। सुबह 8 बजे वे वार्ड नंबर 19 से होते हुए...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 19, 2018, 02:50 AM IST

नालों से गुजरा पाइप देख सीएमओ से सांसद बोले- क्या ऐसे पहुंचता है पानी
सांसद अभिषेक सिंह सोमवार की सुबह अचानक शहर में वार्डों का जायजा लेने निकल पड़े। सुबह 8 बजे वे वार्ड नंबर 19 से होते हुए वार्ड 9, 8 और 7 में भी पहुंचे। जब निचली बस्तियों में सांसद पहुंचे, तो उन्होंने देखा कि पीने के पानी का पाइप लाइन नालियों के बीच से होकर गुजर रहा है। इसे देख सांसद सीएमओ पर नाराज हो गए। उन्होंने सीएमओ से पूछा कि क्या शहर इसी तरह गंदी नालियों से गुजर रहे पाइप लाइन का पानी पीता है। इस पर पालिका के कर्मचारियों के हाथ-पांव फूल गए। उन्होंने इसे ठीक करने के लिए सांसद से डेढ़ महीने की मोहलत भी मांग ली।

सांसद ने संकरी नदी के किनारे में बसे बस्तियों का सोमवार की सुबह जायजा लिया। वे दिन के 12 बजे तक लगातार जायजा लेते रहे। उनके साथ पालिका की पूरी टीम भी थी। सांसद एक स्थान पर पहुंचे, तो देखा कि नाली से पीने के पानी का पाइप लाइन गुजर रहा है। इसे देख वे उखड़ गए। उन्होंने तत्काल सीएमओ सुनील अग्रहरी से पूछा कि क्या लोगों के घरों तक पानी ऐसे ही पहुंचता है। उन्होंने कहा कि कोई बहाने बाजी नहीं चलेगी। सीएमओ ने कहा कि एक-डेढ़ महीने में इसे व्यवस्थित कर लेंगे। सांसद ने फिर कहा कि अभी जून चल रहा है, अगली बार अगस्त में आउंगा, मुझे सब व्यवस्थित चाहिए। उनके साथ नगर पालिका अध्यक्ष देवकुमारी चंद्रवंशी व सांसद प्रतिनिधि जसविंदर बग्गा भी मौजूद थे।

जब की एक महिला की मदद :सांसद वार्डों में घूम रहे थे, तभी नीतू झारिया नामक एक महिला सांसद के पास पहुंच गई। उसने गुहार लगाई कि उनकी मां बीमार है, इलाज के लिए रुपए नहीं हैं, मदद करिए। इस पर सांसद ने तुरंत मेकाहारा में अधीक्षक डॉ. विवेक चौधरी को कॉल कर कहा कि कवर्धा में नीतू झारिया नाम की एक महिला हैं। घर में फिसलकर गिरने से सर में अंदरूनी चोट लगी है। रक्त का थक्का जमना बता रहे हैं। मैं उन्हें आपके पास भेज रहा हूं। इसके बाद सांसद ने पार्षद राम सहाय धुर्वे से कहा कि आप मरीज को लेकर मेकाहारा जाएंगे और इलाज कराएंगे।

कवर्धा. नाले की सफाई व्यवस्था देखते सांसद अभिषेक सिंह व अन्य।

8 हजार किमी लंबा पाइप नालियों से ही गुजरता है

सांसद ने जो पाइप लाइन नाले से गुजरती देखी, वह तो सिर्फ एक उदाहरण है कि शहर के लोग इन्हीं गंदे नाले से गुजरने वाले पाइप लाइन से पानी पीते हैं। शहर की 45 हजार की आबादी के घरों में 7612 नल कनेक्शन लगे हैं। पालिका के आंकड़ों के ही मुताबिक इनमें से ज्यादातर कनेक्शन के 8 हजार किलोमीटर की पाइप लाइन गंदे नालों से ही गुजरती है। इन्हें दुरुस्त करने के लिए नगरीय प्रशासन विभाग ने पालिका को 94 लाख रुपए भी दिए, लेकिन इन्हें अब तक ठीक नहीं किया जा सका है।

कचरा प्रबंधन स्थल मणिकंचन भी पहुंचे

सांसद वार्ड नंबर 7 में नदी किनारे बने कचरा प्रबंधन स्थल मणिकंचन पहुंचे। जब वे पहुंचे, तो वहां काम कर रही महिलाओं के साथ में हैंड ग्लब नहीं थे। उन्होंने तत्काल सीएमओ को इसके लिए निर्देश दिए। उन्होंने पूछा कि कचरा छांटने के बाद वे इसका क्या करती हैं। तो महिलाओं ने जवाब दिया कि इसे कबाड़ियों को बेच दिया जाता है और वे इसे नागपुर भेजते हैं। इस पर सांसद ने तत्काल नागपुर के मेयर से बात की, ताकि महिला समूह ही सीधे नागपुर में कचरा भेज सके।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kawardha

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×