--Advertisement--

स्टाफ नर्स व आया सस्पेंड, संविदाकर्मी बर्खास्त

जिला अस्पताल में डॉक्टर और नर्सों की लापरवाही से 1 जुलाई को जन्म के कुछ देर बाद एक नवजात की मौत हो गई। क्योंकि जब...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 02:50 AM IST
जिला अस्पताल में डॉक्टर और नर्सों की लापरवाही से 1 जुलाई को जन्म के कुछ देर बाद एक नवजात की मौत हो गई। क्योंकि जब बच्चा पैदा होने वाला था और गर्भवती लेबर पैन से तड़प रही थी, तब नाइट ड्यूटी में तैनात डॉक्टर और नर्सें सो रहे थे। गर्भवती को तड़पता देख साथ आई महिला परिजन ने ही डिलवरी करा दी और बच्चा मर गया। इस मामले में जिला प्रशासन ने जिला चिकित्सालय में पदस्थ स्टाफ नर्स सुनीता सूरज एवं वार्ड आया सुनीता पटेल को अपने कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने पर सस्पेंड कर दिया है। साथ ही संविदाकर्मी स्टाफ नर्स ममता खूंटे को बर्खास्त करने निर्देश दिए हैं।

जिला अस्पताल के डॉ.आईएस ठाकुर से मामले की जांच कराई गई। उन्होंने अपने जांच प्रतिवेदन में बताया कि सुखयारिन बैगा को पेट में दर्द एवं गर्भद्वार से पानी की रिसाव की तकलीफ होने से जिला अस्पताल में भर्ती कराई गई। जांच में रात्रि कालीन चिकित्सक, ड्यूटी स्टॉफ, नर्स एवं ड्यूटी आया ने अपने कर्तव्य ठीक से नहीं किया।