Hindi News »Chhatisgarh »Kawardha» प्रतियोगी परीक्षा के लिए मजदूरों के बच्चों को फ्री कोचिंग

प्रतियोगी परीक्षा के लिए मजदूरों के बच्चों को फ्री कोचिंग

सफाई कामगार और मजदूरी करने वाले भी अब आसानी से अपने बच्चों को पीईटी, नीट, जेईई मेंस व एडवांस, पीएससी और यूपीएससी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 10, 2018, 02:50 AM IST

प्रतियोगी परीक्षा के लिए मजदूरों के बच्चों को फ्री कोचिंग
सफाई कामगार और मजदूरी करने वाले भी अब आसानी से अपने बच्चों को पीईटी, नीट, जेईई मेंस व एडवांस, पीएससी और यूपीएससी जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करा सकेंगे। यही नहीं श्रम विभाग में पंजीकृत मजदूरों के बच्चों की उच्च शिक्षा का पूरा खर्च भी अब श्रम विभाग उठाएगी। इसके साथ ही केन्द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने शिक्षा वित्तीय सहायता योजना शुरू की गई,जिसके तहत बच्चों को योजना का लाभ दिया जाएगा।

सफाई कामगर और मजदूरी करने वालों के बच्चों को उच्च और बेहतर शिक्षा देने के लिए उच्च शिक्षा प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत पहले दो संतानों की पढ़ाई का खर्च सरकार उठाएगी। इसके लिए मजदूर या सफाई कामगर को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। जिले के श्रम पदाधिकारी राजेश आडिले ने बताया कि इस स्कॉलरशिप के लिए कोई भी पंजीकृत श्रमिक अपने बच्चों के लिए ऑनलाइन आवेदन करा सकता है।

जिले के 50 हजार से अधिक श्रमिक अपने बच्चों के लिए कर सकते हैं आवेदन, सीएमसी के माध्यम से भरे जाएंगे फाॅर्म

कवर्धा.सीएससी के जरिए विभिन्न योजनाओं के फार्म भरे जा रहे है।

जिले में अभी 50 हजार से अधिक पंजीकृत मजदूर

जिले में 50 हजार से अधिक मजदूर श्रम विभाग में पंजीकृत हैं। इस लिहाज से देखा जाए तो श्रमिकों के बच्चों को इसका सीधा लाभ मिलेगा। श्रम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में संगठित क्षेत्र के 38 हजार 393 और असंगठित क्षेत्र के करीब 15 हजार 654 मजदूर पंजीकृत हैं। वहीं केन्द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय अंतर्गत कक्षा 1 से लेकर पीएचडी तक के लिए केन्द्र सरकार 250 रुपए से लेकर 15 हजार रुपए तक स्कॉलरशिप देगी। ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तारीख 30 सितंबर निर्धारित की है। अावेदन जिले के 367 लाेक सेवा केन्द्र (सीएससी) से भरे जा रहे हैं।

जानिए, इन दो योजनाआें के बारे में

एंट्रेंस एग्जाम योजना: यह योजना सफाई कामगर की पहली दो संतानों के लिए है। इसके अंतर्गत पीईटी,नीट, जेईई, पीएससी, यूपीएससी सहित अन्य एंट्रेंस एग्जाम की कोचिंग के लिए आवेदन किया जा सकता है। वहीं इस योजना का लाभ लेने के लिए श्रम विभाग की वेबसाइट में जाकर इसके लिए आवेदन किया जा सकता है। आवेदन के साथ बैंक पासबुक, आधार कार्ड संबंधित कोचिंग संस्थान का फीस स्ट्रक्चर, अंतिम कक्षा की अंकसूची को अपलोड किया जाएगा।

उच्च शिक्षा प्रोत्साहन योजना: संगठित क्षेत्र के श्रमिकों के पहले दो संतानों के लिए है। इसके अंतर्गत इंजीनियरिंग, मेडिकल, नर्सिंग, आईटीआई,एनआईटीए डेंटल जैसे कॉलेज में पढ़ाई के लिए आवेदन किया जा सकता है। ऐसे संस्थानों में प्रवेश के बाद पेड फीस की रसीद के साथ ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन के साथ श्रम कार्ड, बैंक खाते का पासबुक, आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र देना होगा। आवेदन के बाद बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम फीस की राशि जमा की जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kawardha

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×