• Home
  • Chhattisgarh News
  • Kawardha
  • पेंशन भुगतान करने के लिए अब गांवों में खुद पहुंचेगा चलित बैंक
--Advertisement--

पेंशन भुगतान करने के लिए अब गांवों में खुद पहुंचेगा चलित बैंक

दूरस्थ आदिवासी बाहुल गांव सिवनीकला के बजुर्गों को पेंशन के लिए बैंक नहीं जाना पड़ेगा। क्योंकि अब बैंकर्स खुद ही...

Danik Bhaskar | Jun 13, 2018, 02:50 AM IST
दूरस्थ आदिवासी बाहुल गांव सिवनीकला के बजुर्गों को पेंशन के लिए बैंक नहीं जाना पड़ेगा। क्योंकि अब बैंकर्स खुद ही चलित बैंक लेकर भुगतान करने गांव पहुंचेंगे। इससे सिवनीकला समेत आसपास के 11 ग्राम पंचायतों में वृद्धावस्था, विधवा, दिव्यांग पेंशन पाने वाले लोगों को सुविधा मिल सकेगी।

मंगलवार को सिवनीकला में जनसमस्या निवारण शिविर के दौरान कलेक्टर अवनीश शरण ने ग्रामीणों को ये सौगात दी है। कलेक्टर ने कहा कि अगले महीने से नई व्यवस्था की शुरुआत की जाएगी। चलित बैंक की सुविधा देने का आश्वासन दिया है। शिविर में पहुंचे कवर्धा विधायक अशोक साहू, जिपं अध्यक्ष संतोष पटेल, कलेक्टर, एसपी और जिपं सीईओ ने यहां आए ग्रामीणों की समस्याएं, मांग और शिकायतों को सुना। शिविर में मिले 53 आवेदनों का मौके पर ही निराकरण किया गया। शिविर में ग्रामीणों को को रसोई गैस चूल्हा, खाद, बीज व अन्य कृषि उपकरण बांटे गए। ग्रामीणों की मांग पर सिवनीकला में पेयजल व्यवस्था के लिए 2 नए हैंडपंप खान और सोलर पैनल लगाने की स्वीकृति दी गई। दोनों हैंडपंप में क्रेडा से संचालित सोलर पैनल लगाया जाएगा, जिससे ग्रामीणों को जलापूर्ति हो सकेगी। गांव में सार्वजनिक पेयजल के लिए 3 कुंआ खनन और नया आंगनबाड़ी केन्द्र भवन निर्माण की भी सैद्धांतिक सहमति दी गई है। ग्रामीणों ने बहनाखोदरा गांव में स्वास्थ्य सुविधा के लिए उप-स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की मांग की। कलेक्टर ने बताया कि प्रस्ताव शासन को भेजा जा चुका है। स्वीकृति मिलते ही यहां उपस्वास्थ्य केन्द्र खोला जाएगा।