--Advertisement--

इस साल टेक्निकल में एडमिशन की स्थिति खराब

नगर के पाॅलीटेक्निक में 14 जून से विभिन्न टेक्निकल कोर्स के लिए डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जा रहा है। लेकिन पिछले...

Dainik Bhaskar

Jul 03, 2018, 02:55 AM IST
इस साल टेक्निकल में एडमिशन की स्थिति खराब
नगर के पाॅलीटेक्निक में 14 जून से विभिन्न टेक्निकल कोर्स के लिए डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जा रहा है। लेकिन पिछले साल की तुलना में इस साल भी टेक्निकल कोर्स में दाखिले को लेकर युवाओं में रुचि नहीं दिखाई दे रही है। यही कारण है कि बी फार्मेसी, डी फार्मेसी, इंजीनियरिंग जैसे कोर्स में महज 274 स्टूडेंट्स ने दस्तावेज परीक्षण कराया है।

दस्तावेज परीक्षण में कम स्टूडेंट शामिल होने के चलते इस साल भी टेक्निकल कोर्स के हजारों सीट खाली रहेंगे। वहीं नगर के पॉलीटेक्निक में भी लेटर एंट्री में दाखिले के लिए 9 लाेगों ने रुचि दिखाई है। इनमें 6 स्टूडेंट्स ने इलेक्ट्रिकल व 3 ने कम्प्यूटर साइंस विषय को लेकर आवेदन किया है।

पिछले साल पॉलीटेक्निक में 22 सीट रिक्त थी

पॉलीटेक्निक के प्राचार्य सीके रहांगडाले ने बताया कि वर्तमान में पॉलीटेक्निक में तीन ब्रांच की पढ़ाई होती हैं। इसमें इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्यूनिकेशन(ईटीएंडटी) व कम्प्यूटर साइंस (सीएस) शामिल हैं। पिछले साल कॉलेज के सीएस में 3 व ईटीएंडटी में 22 सींटे रिक्त रह गई थी। इस साल भी 9 स्टूडेंट्स ने आवेदन किया है, इसके पीछे सबसे बड़ी वजह पॉलीटेक्निक का भवन नहीं होना हैं।

उच्च शिक्षा

लेटर एंट्री में पॉलीटेक्निक कॉलेज में 9 युवाओं ने दिखाई रुचि, केवल 274 स्टूडेंट्स ने ही कराया दस्तावेज परीक्षण

कवर्धा. काउंसिलिंग के बाद स्टूडेंट्स का दस्तावेज परीक्षण किया जा रहा है।

इंजीनियरिंग : दो चरणों में 65 ने ही किया आवेदन

पॉलीटेक्निक के साथ इंजीनियरिंग में भी रुझान कम दिखाई दे रहा हैं। अब तक के दो चरणों के पीईटी काउंसिलिंग में केवल 65 स्टूडेंट्स ने दस्तावेज चेक कराया हैं। इस साल राज्यभर के विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों में 20 हजार से अधिक सीटों में दाखिला दिया जाएगा तो वहीं पीईटी परीक्षा में करीब 23 हजार स्टूडेंट्स परीक्षा में शामिल हुए थे।

अब तक दस्तावेज परीक्षण एक नजर में





X
इस साल टेक्निकल में एडमिशन की स्थिति खराब
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..