--Advertisement--

लापरवाही, फिर भी नया ठेका देने तैयारी

शॉपिंग कांप्लेक्स में लिफ्ट नहीं लगाने के मामले में जिस ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट करना था, वो तो नहीं किया। इसके उलट...

Danik Bhaskar | Jun 28, 2018, 03:00 AM IST
शॉपिंग कांप्लेक्स में लिफ्ट नहीं लगाने के मामले में जिस ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट करना था, वो तो नहीं किया। इसके उलट उसी को नगर सीमा में ही 1.60 करोड़ रुपए के सीसी रोड व नाली निर्माण का ठेका देने की तैयारी है। पालिका के नुमाइंदों की इस करतूत पर बुधवार को नगर परिषद की बैठक में कांग्रेसी पार्षदों ने हल्ला भी मचाया।

इसके बावजूद सत्तापक्ष पर इसका कोई असर नहीं हुआ, क्योंकि बहुमत तो उनका है। सत्तापक्ष ने बहुमत से ठेकेदार को एक और मौका दे दिया। परिषद में लाए गए विषय सूची में पहले से 8 नंबर तक अधोसंरचना मद से होने वाले 27 निर्माण कार्यों की दर की सक्षम स्वीकृति के एजेंडे को विचार एवं निर्णय के लिए लाए गए थे। ई-टेंडर के जरिए न्यूनतम निविदा दर पर ठेकेदार वनीत सिंह छाबड़ा को अलग- अलग जगहाें में 11 काम मिले हैं, जबकि पूर्व में ठेके का काम अधूरा है। परिषद में 25 महत्वपूर्ण एजेंडे लाए गए थे। बुधवार दोपहर 12 बजे बैठक शुरू हुई।

नपा का करानामा

परिषद की बैठक में कांग्रेसी पार्षदों ने किया हंगामा, सत्तापक्ष ठेकेदार पर मेहरबान

कवर्धा.परिषद की बैठक में अभिमत लिखवाते कांग्रेसी पार्षद।

ये है वो काम, जिसके लिए ठेकेदार को दिए नोटिस

एकता चौक पर भारतमाता शॉपिंग कांप्लेक्स मौजूद है। वर्ष 2009 में करीब 1 करोड़ रुपए से बनी इस बिल्डिंग में लिफ्ट लगाने का काम ठेकेदार वनीत सिंह को दिया था। इसके लिए 8 लाख रुपए स्वीकृत हुआ था। राशि का भुगतान तो कर दिया, लेकिन 9 साल बाद भी लिफ्ट नहीं लग पाई है। इस मामले में ठेकेदार को 3 बार नोटिस भेजा गया। ब्लैकलिस्ट करने की भी चेतावनी दी गई, फिर भी न काम पूरा हुआ न ही कार्रवाई की गई।

कांग्रेसी पार्षद ने परिषद लिपिक से की बदसलूकी

नगर परिषद में वार्ड- 18 के कांग्रेसी पार्षद भीखम कोसले ने सहायक ग्रेड- 3 व परिषद लिपिक रामकुमार पाली से बदसलूकी से पेश आए। बैठक में 17वें एजेंडे पर चर्चा के बाद अभिमत लिखी जा रही थी। तभी पार्षद भीखम ने तमककर लिपिक से कहा बाहर करे।

ठेकेदार को 3 बार नोटिस दे चुके, अब होगी कार्वाई