• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Kendri
  • सिंहदेव को अंतिम विदाई देने लोग उमड़े, भतीजी अंबिका ने दी मुखाग्नि

सिंहदेव को अंतिम विदाई देने लोग उमड़े, भतीजी अंबिका ने दी मुखाग्नि / सिंहदेव को अंतिम विदाई देने लोग उमड़े, भतीजी अंबिका ने दी मुखाग्नि

Kendri News - छत्तीसगढ़ शासन में पहले वित्त मंत्री डा रामचंद्र सिंहदेव का जिला मुख्यालय स्थित कोरिया पैलेस के पास राजकीय...

Bhaskar News Network

Jul 22, 2018, 02:40 AM IST
सिंहदेव को अंतिम विदाई देने लोग उमड़े, भतीजी अंबिका ने दी मुखाग्नि
छत्तीसगढ़ शासन में पहले वित्त मंत्री डा रामचंद्र सिंहदेव का जिला मुख्यालय स्थित कोरिया पैलेस के पास राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस अवसर पर उन्हें पुलिस ने सलामी दी। उनके परिवार के राघवेंद्र प्रताप सिंहदेव सहित राज परिवार अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

पहली बार कोरिया रियासत के राज परिवार में भतीजी अंबिका सिंहदेव ने मुखाग्नि दी। लोक सेवा के लिए डा सिंहदेव ने विवाह नहीं किया था। अपना पूरा जीवन क्षेत्र की जनता को समर्पित करते अंतिम सांस तक गांव गरीब और किसानों के हित में काम करते रहे। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा था मेरे हाथ पैर भले ही मेरा साथ न दें, लेकिन दिमाग जबतक काम करेगा मैं सलाह और सच का ही साथ दूंगा। सिंहदेव ने कह दिया था कि मेरे पार्थिव शरीर को शहर में न घुमाएं। उनकी इस इच्छा के ध्यान को रखते हुए पैलेस से सीधे अंतिम संस्कार के लिए पार्थिव शरीर को श्मशान घाट में ले जाया गया।









जहां गृह मंत्री रामसेवक पैंकरा,श्रम मंत्री भइयालाल राजवाड़े, पूर्व केंद्रीय मंत्री डाॅ. चरणदास महंत सहित विधायक श्याम बिहारी जायसवाल, संसदीय सचिव चम्पादेवी पावले उपस्थित रहीं। अंतिम संस्कार से पहले उनके पार्थिव शरीर को लोगों के दर्शन के लिए मुक्तिधाम में रखा गया। मंत्री विधायक सहित आम नागरिकों ने नम आंखों से कोरिया कुमार को अंतिम विदाई दी। इस अवसर पर भूतपूर्व वित्त मंत्री स्वर्गीय डा रामचन्द्र सिंहदेव के परिवार के सदस्य लालविजय प्रताप सिंह, अनंत पाल सिंह, दीपेंद्र सिंह, बृज राज कुमारी, ज्योत्सना कुमारी, छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष टीएस. सिंहदेव, जिला एवं सत्र न्यायाधीश विजय कुमार एक्का, सरगुजा राजस्व संभाग कमिश्नर अविनाश चंपावत, कलेक्टर नरेंद्र दुग्गा, आईजी हिमांशु गुप्ता, एसपी विवेक शुक्ला, नपा अध्यक्ष अशोक जायसवाल सहित बड़ी संख्या में स्थानीय प्रतिनिधि शामिल हुए।

X
सिंहदेव को अंतिम विदाई देने लोग उमड़े, भतीजी अंबिका ने दी मुखाग्नि
COMMENT