Hindi News »Chhatisgarh »Kendri» मराठा आरक्षण के लिए पंकजा को 1 घंटे के लिए सीएम बनाएं

मराठा आरक्षण के लिए पंकजा को 1 घंटे के लिए सीएम बनाएं

मुंबई|शिवसेना ने शनिवार को सत्तारूढ़ सहयोगी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर हमला बोलते हुए सुझाव दिया कि महाराष्ट्र...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 29, 2018, 02:51 AM IST

मराठा आरक्षण के लिए पंकजा को 1 घंटे के लिए सीएम बनाएं
मुंबई|शिवसेना ने शनिवार को सत्तारूढ़ सहयोगी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर हमला बोलते हुए सुझाव दिया कि महाराष्ट्र सरकार में मंत्री पंकजा मुंडे को सर्वसम्मति से एक घंटे के लिए मुख्यमंत्री बना दिया जाए, ताकि मराठा आरक्षण की फाइल को मंजूरी दी जा सके। महाराष्ट्र की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री पंकजा मुंडे ने गुरुवार को यह कहकर सियासी भूचाल ला दिया था कि अगर मराठा आरक्षण की फाइल उनके पास आई होती तो वह बिना झिझक उसे मंजूरी दे दी होतीं, लेकिन अब मामला विचाराधीन हो गया है। मुंडे की इस टिप्पणी के बाद शिवसेना का यह सुझाव आया है। पंकजा दिवंगत केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे की बेटी हैं।

बयान का समर्थन करते हुए शिवसेना ने कहा कि अगर मुंडे एक घंटे के लिए मुख्यमंत्री बनती हैं तो कोई बाधा नहीं आएगी। वह पलक झपकते ही फाइल पर हस्ताक्षर कर देंगी और इसके बाद मराठा आरक्षण का मुद्दा शांत हो सकता है। शिवसेना ने कहा, ‘जैसा कि मुंडे दावा कर रही हैं, अगर वह ऐसा कर सकती हैं तो फडणवीस क्यों नहीं?’ शिवसेना की यह तीखी टिप्पणी पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ और ‘दोपहर का सामना’ में प्रकाशित हुई है। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने कहा कि आर्थिक आधार पर दिया जाना चाहिए। राज ने कहा कि विपक्ष में रहते हुए राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटील मराठा आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन करते थे। अब सत्ता में आते ही चुप बैठ गए हैं।

मुंडे ने कहा था- आरक्षण की फाइल मेरे पास होती तो तुरंत मंजूरी दे देती

पंकजा मुंडे

सीएम फडणवीस ने किया बचाव

सीएम फडणवीस ने मराठा आरक्षण पर अपनी सरकार का बचाव करते हुए कहा, ‘हमारी सरकार ने मराठा आरक्षण के लिए कानून बनाया था लेकिन हाई कोर्ट ने इसपर रोक लगा दी। हमें लगता है कि यह एक विशेष केस है और पिछड़ा आयोग की सलाह पर आरक्षण दिया जा सकता है। दुर्भाग्यवश आयोग के पहले मुखिया की मृत्यु हो गई और दूसरे अध्यक्ष की नियुक्ति में काफी वक्त लग गया।’

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kendri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×