Home | Chhatisgarh | Kendri | अमित शाह ने कहा- बुआ-बबुआ और बाबा एक हो जाएं तो भी भाजपा जीतेगी

अमित शाह ने कहा- बुआ-बबुआ और बाबा एक हो जाएं तो भी भाजपा जीतेगी

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर कहा है कि बुआ (मायावती)-बबुआ (अखिलेश यादव) और बाबा (राहुल गांधी)...

Bhaskar News Network| Last Modified - Aug 06, 2018, 02:55 AM IST

अमित शाह ने कहा- बुआ-बबुआ और बाबा एक हो जाएं तो भी भाजपा जीतेगी
अमित शाह ने कहा- बुआ-बबुआ और बाबा एक हो जाएं तो भी भाजपा जीतेगी
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर कहा है कि बुआ (मायावती)-बबुआ (अखिलेश यादव) और बाबा (राहुल गांधी) मिल जाएं तो भी भाजपा को हराना मुश्किल है। उन्होंने दावा किया कि जनता भाजपा को ही जिताएगी। शाह रविवार को वाराणसी के पास मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर दीनदयाल उपाध्याय रेलवे स्टेशन करने के कार्यक्रम में सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रेल मंत्री पीयूष गोयल भी मौजूद रहे। शाह ने मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। शाह ने जनता से यूपी में 74 सीटें जिताने की अपील की। शाह ने कहा कि 2019 में जीत का रास्ता यूपी से होकर जाएगा।

उन्होंने कहा, “2019 के चुनाव में यूपी से पार्टी की वर्तमान में जो 73 सीटें हैं, उससे एक भी कम यानी 72 नहीं, बल्कि 74 जरूर हो सकती हैं। बुआ-भतीजा के साथ चाहे राहुल बाबा मिल जाएं, कोई फर्क नहीं पड़ता।’

ओबीसी बिल पर कांग्रेस से सवाल

शाह ने ओबीसी बिल पर कांग्रेस से अपना रवैया साफ करने की चुनौती दी और पूछा कि क्या कांग्रेस पार्टी राज्यसभा में इस बिल का समर्थन करेगी। उन्होंने राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दे पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला किया। शाह ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत मोदी सरकार ने एनआरसी बनाया। एनआरसी देश में से, असम में से बांग्लादेशी घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकालने की व्यवस्था है।

ममता बनर्जी कहती हैं एनआरसी नहीं होना चाहिए। कांग्रेस कहती है एनआरसी नहीं होना चाहिए। मैं चार दिन से राहुल बाबा से पूछ रहा हूं कि इस देश में एनआरसी होना चाहिए या नहीं तो वह जवाब नहीं देना चाहते हैं।’

संपर्क फॉर समर्थन : महेंद्र सिंह धोनी से मिले अमित शाह, गिनाईं सरकार की उपलब्धियां

नई दिल्ली | ‘संपर्क फॉर समर्थन’ अभियान के तहत रविवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी से मुलाकात की। धोनी से मिलकर शाह ने केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाने वाली एक पुस्तिका भेंट की। इस मुलाकात में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और छत्तीसगढ़ से राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय भी शामिल थीं। यह अभियान लोकसभा चुनावों के लिए जनता का समर्थन जुटाने के लिए शुरू किया था।



भाजपा ने अपने सहयोगियों से मिलने और रूठे हुए साथियों को मनाने के लिए ‘संपर्क फॉर समर्थन’ अभियान शुरू किया है। इससे पहले अमित शाह ने मुंबई जाकर 22 जुलाई को सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर से उनके आवास पर मुलाकात की थी। अमित शाह कई महत्वपूर्ण हस्तियों से भी मुलाकात कर चुके हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस को पिछड़ा वर्ग बिल पर रुख साफ करने की चुनौती दी

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now