Hindi News »Chhatisgarh »Kendri» मोदी एक महीने में 5वीं बार यूपी पहुंचेंगे, एक लाख करोड़ के विकास प्रोजेक्ट के साथ हिंदुत्व पर भी जोर

मोदी एक महीने में 5वीं बार यूपी पहुंचेंगे, एक लाख करोड़ के विकास प्रोजेक्ट के साथ हिंदुत्व पर भी जोर

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 28, 2018, 03:15 AM IST

मोदी एक महीने में 5वीं बार यूपी पहुंचेंगे, एक लाख करोड़ के विकास प्रोजेक्ट के साथ हिंदुत्व पर भी जोर
पीएम मोदी अब हर महीने यूपी में दो से चार रैली और कार्यक्रम करेंगे

भास्कर न्यूज | नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव से 9 महीने पहले ही पूरी तरह से चुनावी मूड में आ गए हैं। उनका फोकस देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश पर है, जहां विपक्षी एकता की वजह से उपचुनावों में पार्टी को 3 लोकसभा सीटें गंवानी पड़ी हैं। मोदी शुक्रवार को दो दिन के दौरे पर लखनऊ पहुंचेंगे। 30 दिनों में यह उनका पांचवां यूपी दौरा है। मोदी के पांचों कार्यक्रम प्रदेश के पांच अलग-अलग हिस्सों में हुए हैं। देश के सबसे अहम राजनीतिक राज्य में मोदी और शाह ने एकजुट होते विपक्ष से निपटने के लिए नई रणनीति तैयार की है। बाकी पार्टियों से पहले उन्होंने तैयारी भी शुरू कर दी है। इसके तहत इस बार वह राज्य में हिंदुत्व और विकास को एक साथ लेकर आगे बढ़ेंगे।

मोदी विकास प्रोजेक्टों की नींव रखकर जनता से रूबरू होंगे। सीएम योगी और शाह हिंदुत्व के एजेंडे को आगे बढ़ाएंगे। पार्टी सूत्रों के मुताबिक मोदी अब हर माह यूपी में 2 से 4 रैली करेंगे। यह रैलियां वहां होंगी, जहां पार्टी को एकजुट विपक्ष से सबसे ज्यादा खतरा है।

सबसे बड़े राज्य में मोदी-शाह ने 9 माह पहले शुरू की चुनावी यात्रा

बुंदेलखंड को छोड़ उत्तर प्रदेश के बाकी सभी पांच इलाकों में मोदी की मौजूदगी, लखनऊ में दो दिन रहेंगे

28 जून-मगहर (संत कबीर नगर)

गोरखपीठ क्षेत्र: 8 सीटें हैं, दलित, पिछड़ों का दबदबा

मोदी ने 28 जून को मगहर में 24 करोड़ रुपए कबीर एकेडमी का उद्घाटन किया। एक रैली भी की थी। उन्होंने कबीर के दोहों से विपक्ष पर निशाना साधा। मोदी ने कबीर के जरिए कबीरपंथी दलित और पिछड़ी जातियों को साधने की कोशिश की।

गोरखपीठ क्षेत्र में 8 सीटें हैं। सभी पर भाजपा का कब्जा है। 55% आबादी दलित और पिछड़ी जातियों की है।

2014 में सपा, बसपा, कांग्रेस को भाजपा से 7% वोट ज्यादा मिले

आम चुनाव में सपा, बसपा, कांग्रेस, रालोद साथ लड़ सकती हैं। इन्होंने उपचुनाव में एक-दूसरे को समर्थन दिया था। ऐसे में भाजपा के सामने चुनौती अपने वोट बैंक को बचाना और सयुंक्त विपक्ष से ज्यादा वोट लाना है। 2014 में सपा, बसपा व कांग्रेस को मिले वोट को जोड़ दें, तो यह भाजपा से 7%ज्यादा है।

10 जुलाई- नोएडा (गाजियाबाद)

पश्चिम यूपी: 10 में 5 सीटों पर भाजपा से आगे गठजोड़

नोएडा में मोदी ने द. कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई के साथ 5 हजार करोड़ रु की लागत से बने सैमसंग के सबसे बड़े मोबाइल प्लांट का उद्धाटन किया। हर साल 12 करोड़ मोबाइल फोन बनेंगे। कार्यक्रम में योगी भी थे। मोदी ने वेस्ट यूपी की 10 सीटों को साधने की कोशिश की।

वेस्ट यूपी में 10 सीटें हैं। 2014 में सभी भाजपा ने जीतीं थीं। 5 सीटें ऐसी हैं, जिनमें एकजुट विपक्ष का वोट % ज्यादा है।

2014 आम चुनाव में यूपी की 80 सीटों की स्थिति

पार्टी सीट वोट शेयर

भाजपा 71 42.3%

सपा 05 22.2%

कांग्रेस 02 7.5%

अपना दल 02 1.0%

बसपा 00 19.6%

उपचुनाव में भाजपा का वोट प्रतिशत 2014 से करीब 10% कम हुआ है।

14 जुलाई- आजमगढ़, बनारस

पूर्वांचल: एक्सप्रेस-वे के जरिए 15 सीटें पर फोकस

मोदी ने 23 हजार करोड़ रु से 340 किमी लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की आधारशिला रखी। बनारस में 22 हजार करोड़ रु के विकास कार्यों का उद्धाटन किया। आजमगढ़ सपा, बसपा, कांग्रेस का गढ़ रहा है। यहां भाजपा 2014 में भी हार गई थी।

आजमगढ़ में 83% हिंदू, 15% मुस्लिम हैं। इसीलिए मोदी ने हिंदुत्व का कार्ड खेला। मोदी ने 15 सीटों को कवर किया।

सपा, बसपा, कांग्रेस के गठजोड़ के खिलाफ भाजपा का मोदी कार्ड

21 जुलाई- शाहजहांपुर

रुहेलखंड: 11 सीटें भाजपा के पास, किसान बड़ा वोट बैंक

मोदी ने संसद में अविश्वास प्रस्ताव पेश होने के अगले दिन रुहेलखंड के शाहजहांपुर में किसान कल्याण रैली की। यहां उन्होंने किसानों की बात की। यहां की 12 में से 11 सीटों पर भाजपा के सांसद हैं। बदायंू से सपा के धर्मेंद्र यादव सांसद हैं।

2009 में यहां भाजपा के सिर्फ 2 सांसद थे। यह सपा, बसपा का गढ़ है। 2014 में 3 सीटों पर करीबी टक्कर हुई थी।

मोदी राज्य में 4 यात्राओं से अब तक 45 सीटें कवर कर चुके

28 जुलाई-लखनऊ

अवध क्षेत्र: विपक्षी दबदबे वाली 7 सीटों पर है ध्यान

मोदी शनिवार को लखनऊ में हैं। इस दौरान वह 60 हजार करोड़ रु की लागत वाले करीब 74 प्रोजेक्टों का उद्धाटन या आधारशिला रखेंगे। इसमें अधिकतर केंद्रीय योजनाएं हैं। इनमें अटल मिशन, अमृत योजना, स्मार्ट सिटी आदि प्रमुख हैं।

अवध में 12 लोकसभा सीटें अाती हैं। इनमें से 10 पर भाजपा के सांसद हैं। रायबरेली और अमेठी यहीं हैं।

लेटे हनुमान जी की शरण में पहुंचे भाजपा के शाह

गुरु पूर्णिमा पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह संगम नगरी इलाहाबाद पहुंचे। यहां उन्होंने संगम किनारे लेटे हनुमान जी के दर्शन किए और साधु-संतों से आशीर्वाद लिया। शाह ने अगले साल होने वाले अर्ध कुंभ की तैयारियों का जायजा लिया। शाह चुनाव से पहले ताबड़तोड़ यूपी के दौरे कर रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kendri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×