--Advertisement--

6 नाबालिग समेत 10 लोगों को बेंगलुरु में बनाया बंधक

कोरबा| बांगो थाना अंतर्गत लेपरा गांव समेत आसपास बसाहट में रहने वाले लोगों को नरेश व दूजराम नामक व्यक्ति ने कर्नाटक...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:30 AM IST
कोरबा| बांगो थाना अंतर्गत लेपरा गांव समेत आसपास बसाहट में रहने वाले लोगों को नरेश व दूजराम नामक व्यक्ति ने कर्नाटक के बेंगलुरु में अच्छा काम दिलाने का सब्जबाग दिखाया। जिसके बाद लेपरा निवासी गुलाब सारथी (35), बैजनाथ उर्फ लगमिया उरांव (40) समेत आश्रित मोहल्ला मुठेरी निवासी विजय पाल (18), दिलेश्वर (17), दीपक (16), बरभांठा निवासी राम (16), लखन (16), नारायण (16), रवि (18), बसाहट निवासी पवन (15) उनके झांसे में आ गए। वे दोनों 5 जनवरी 2018 को सभी को साथ ले गए। जिसके बाद अब तक उन सभी लोगों के मोबइल बंद है। परिजनों से उनका संपर्क नहीं है। परिजनों ने दूजराम के मोबाइल पर संपर्क किया तो उसका जवाब गोलमोल मिला। इस बीच परिजनों को नाबालिग बच्चो समेत सभी 10 लोगोें को बैंगलोर में बंधक बनाकर मजदूरी करवाने की जानकारी मिली। परिजनों ने प्रशासन व पुलिस से बंधक बने सभी लोगों को छु़ड़ाने व उन्हें ले जाने वाले दोनों लोगों पर कार्रवाई की मांग की है।

कभी भागना बताया, कभी दूसरे जगह कार्यरत

लेपरा सरपंच चंद्रकला पोर्ते ने मामले की सूचना दी है। उनके मुताबिक परिजनों ने बच्चों व बड़ों को काम कराने ले जाने वाले दूजराम से मोबाइल पर उनके संबंध में पूछा तो वह कभी उनके काम छोड़कर भागने तो कभी दूसरे जगह कार्यरत होने की बात कहता है।