काेरबा ब्लॉक में 3 शिक्षकों का प्रमाण-पत्र मिला फर्जी

Korba News - फर्जी प्रमाण-पत्र के माध्यम नौकरी प्राप्त करने वाले शिक्षाकर्मियों की अब पोल खुलने लगी है। मार्कशीट अथवा किसी...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:15 AM IST
Korba News - chhattisgarh news 3 teachers got certificates in kerba block
फर्जी प्रमाण-पत्र के माध्यम नौकरी प्राप्त करने वाले शिक्षाकर्मियों की अब पोल खुलने लगी है। मार्कशीट अथवा किसी अन्य कागजात में छेड़छाड़ कर नौकरी करने की बात सामने आने पर विभाग अब जांच कर कार्रवाई कर रहा है।

ब्लॉक कोरबा में वर्ग 1, 2, 3 के कुल 1475 शिक्षाकर्मी हैं। इसमें से अभी वर्ग-3 के 769 शिक्षाकर्मियों के प्रमाण-पत्र काे जांचने 29 से 31 जून तक बीईओ कार्यालय में बुलाया गया था। तय तिथि तक 570 शिक्षक कागजात की जांच कराने पहुंचे, जबकि 199 नहीं आए। वर्ग-3 के 570 शिक्षाकर्मियों की बीईओ कार्यालय में हुई जांच के बाद 3 शिक्षकों के कागजात फर्जी मिले हैं, जबकि दो शिक्षकों के प्रमाण-पत्र फर्जी हैं, पहले से ही पुष्ट हो गया है। 29, 30 व 31 जून तक चली जांच के बाद बीईओ कोरबा संजय अग्रवाल ने शिक्षाकर्मियों की जांच रिपोर्ट जिला शिक्षा अधिकारी को सौंप दी है। डीईओ सतीश कुमार पाण्डेय ने बताया उन्हें बीईओ कार्यालय से मिली रिपोर्ट में 3 शिक्षकों के प्रमाण-पत्र फर्जी होने के संकेत मिल रहे हैं। इनके खिलाफ चार्जशीट तैयार हो है। इनमें कंचन भारद्वाज सहायक शिक्षक प्राइमरी स्कूल खोड्‌डल, धीरेन्द्र कुमार धिरहे प्राइमरी स्कूल एलांेग व सुनीता महिलांगे प्राइमरी स्कूल भाठापारा शामिल हैं। इनके खिलाफ चार्जशीट तैयार कराकर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

ये हैं संदेह के दायरे में सख्ती बरतेगा विभाग

कमिश्नर बिलासपुर के आदेश पर शिक्षाकर्मियों के प्रमाण-पत्रों की जांच 12 साल बाद शुुरू हुई है। 12 नौकरी के बाद फर्जी प्रमाण-पत्र के सहारे नौकरी करने वाले शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू होगी। पहले चरण में वर्ग-3 जिन 199 शिक्षकों ने जो अपने प्रमाण-पत्रों की जांच कराने नहीं पहुंचे उन पर संदेह बढ़ रहा है। इनमें से अधिकांश के प्रमाण-पत्र फर्जी होने की संभावना है। ये शिक्षाकर्मी सामने नहीं आते हैं तो उनके खिलाफ विभाग सख्ती बरतेगा।

एक जेल में, दूसरे के खिलाफ जनपद से होनी है कार्रवाई

14 दिन पहले ही जांजगीर-चांपा के हसौद क्षेत्र का रहने वाला शिक्षाकर्मी चितरंजन प्रसाद कश्यप जो प्राइमरी स्कूल छिरहुट में पदस्थ था, उसके प्रमाण-पत्र फर्जी होने के पुष्टि होने पर जांजगीर पुलिस ने गिरफ्तार लिया है। वह जेल में है। जबकि दूसरा प्राइमरी स्कूल धौंराभाठा में पदस्थ कुमान प्रसाद राजवाड़े जो एलबी नहीं है, उसके खिलाफ जनपद पंचायत सीईओ में कार्रवाई पेंडिंग है।

कुल 1476 शिक्षाकर्मी हैं कोरबा ब्लाॅक में

वर्ग एक, दो और तीन के कोरबा ब्लाॅक में 1475 शिक्षाकर्मी हैं। इनके प्रमाण-पत्रांे की जांच बाकी है। इसमें से अब तक 769 शिक्षाकर्मी वर्ग-3 के प्रमाण-पत्रों का सत्यापन हो पाया है। वर्ग एक व दो का होना बाकी है।

नियमानुसार होगी कार्रवाई


X
Korba News - chhattisgarh news 3 teachers got certificates in kerba block
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना