• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Korba
  • Korba News chhattisgarh news data for many retired officers is incomplete hence the benefits of nps are not getting
विज्ञापन

कई रिटायर अफसरों का डाटा अधूरा इसलिए एनपीएस का लाभ नहीं मिल रहा

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:06 AM IST

Korba News - कोल इंडिया व इसके सहायक कंपनियों में काम करने वाले हजारों अफसरों के लिए प्रबंधन ने न्यू पेंशन स्कीम (एनपीएस) लागू...

Korba News - chhattisgarh news data for many retired officers is incomplete hence the benefits of nps are not getting
  • comment
कोल इंडिया व इसके सहायक कंपनियों में काम करने वाले हजारों अफसरों के लिए प्रबंधन ने न्यू पेंशन स्कीम (एनपीएस) लागू किया है। बीते दिनों जिसकी लॉचिंग सीआईएल एक्जुक्यूटिव डिफाइंड कॉन्ट्रीब्यूशन पेंशन स्कीम के नाम से हुई है। 2007 से सेवानिवृत्त हुए कोयला अधिकारियों को इसका लाभ मिलना है। लेकिन प्रबंधन सेवानिवृत्त अधिकांश अफसरों के एनपीएस से संबंधित डाटा ही कम्लीट नहीं कर पाई है। जिसके कारण उनके सामने बड़ी अड़चन खड़ी हो गई है। कोयला क्षेत्र के जानकारों का कहना है कि वर्ष 2007 से सेवानिवृत्त अफसरों के लिए एनपीएस लागू की गई है। इस दौरान से अब तक सेवानिवृत्त हुए अफसरों की संख्या करीब 4700 है। अब तक इनमें से केवल 1000 के करीब सेवानिवृत्त अफसरों को योजना का लाभ मिलना शुरु हुआ है। 3700 अफसरों को लाभ दिलाने की प्रक्रिया जारी है। इसमें कई अधिकारियों एनपीएस से संबंधित दस्तावेज व डाटा में कमी है। जिसके कारण लाभ मिलना शुरु नहीं हुआ है। इससे प्रभावित अधिकारियों में प्रबंधन के प्रति नाराजगी है। वहीं अब कोल इंडिया प्रबंधन ने इस सिलसिल में एसईसीएल सहित कोल इंडिया के सभी सहायक कंपनियों के निदेशक वित्त व कार्मिक को पत्र जारी कर एनपीएस का लाभ दिए जाने संबंधी औपचारिकताएं पूरी करने निर्देश दिए हैं। एनपीएस के तहत औसतन आठ से दस हजार का फायदा हर माह अधिकारियों को होगा। ऑल इंडिया एसोसिएशन ऑफ कोल एक्जीक्यूटिव के अनुसार एक लाख वेतन के आधार पर गणना करें तो लगभग दस हजार रुपए महीने का फायदा संभव है। अब जिसका जैसा बेसिक होगा उसे उसी हिसाब से न्यू पेंशन स्कीम का लाभ मिलेगा।

प्रक्रिया जल्द पूरी करने लिखा पत्र

दूसरे वेतन पुनरीक्षण में किया गया था प्रावधान

कोल इंडिया मुख्यालय में सप्ताह भर पहले ही कोल सेक्रेटरी की उपस्थिति में डिफाइंड कांट्रब्यूटरी पेंशन एंड रिटायर्ड एक्जीक्यूटिव स्कीम लॉच हुआ किया गया था। 1 जनवरी 2007 में अधिकारियों के वेतन पुनरीक्षण के दौरान न्यू पेंशन स्कीम (एनपीएस) का प्रावधान किया गया था। इस मद में रकम की कटौती होती रही। कई हजार करोड़ न्यू पेंशन स्कीम फंड में जमा है। 1 जनवरी 2007 से बेसिक व डीए का 9.84 प्रतिशत राशि स्कीम के तहत मिलना है।

एम्पलाई आईडी से जुड़ी गड़बड़ी से भी दिक्कत

एनपीएस का लाभ लेने के लिए जहां सेवानिवृत्त अफसरों के सामने डाटा कम्लीट नहीं होने जैसी समस्या आ रही है। एक अफसर ने बताया कि एनसीएल से सेवानिवृत्त महाप्रबंधक( कार्मिक) जीएन सिंह के साथ एईसी कंपनी के अधिकारी का एम्पलाई आईडी एक होने से दिक्कत आ रही है।

सभी को जल्द लाभ मिले इसका प्रयास हो: राठौर

कोयला अधिकारी संघ एसोसिएशन ऑफ कोल एक्जुक्यूटिव (एआईएसीई)के संयोजक पीके सिंह राठौर ने बताया कि प्रबंधन ने एनपीएस के संबंध में कंपनियों को पत्र जारी कर जल्द कार्रवाई के लिए कहा है। हमारी मांग है कि डाटा संबंधित व अन्य तकनीकी दिक्कतों को दूर कर जल्द सेवानिवृत्त अफसरों को इसका लाभ दिलाया जाए।

X
Korba News - chhattisgarh news data for many retired officers is incomplete hence the benefits of nps are not getting
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन