विज्ञापन

रेलवे आरक्षण केंद्र में हैं 8 काउंटर, चालू सिर्फ एक रिजर्वेशन कराने लोगों को करना पड़ता है इंतजार

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 02:51 AM IST

Korba News - रेलवे की व्यवस्था का खामियाजा पूरे सत्र तक यहां के यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है। सुविधा के नाम पर एक भी ऐसा काम...

Korba News - chhattisgarh news railway reservation center has 8 counters people have to do just one reservation
  • comment
रेलवे की व्यवस्था का खामियाजा पूरे सत्र तक यहां के यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है। सुविधा के नाम पर एक भी ऐसा काम यहां नहीं हुआ जिसके लिए रेलवे की प्रशंसा की जाए। ऐन विधानसभा चुनाव के वक्त हसदेव एक्सप्रेस तो दी लेकिन वह भी समय पर नहीं चलती। आरक्षित टिकट के लिए स्टेशन के सामने 8 काउंटर वाला पीआरएस खोला गया है, पर वहां 1 काउंटर ही खुलता है। प्लेटफार्म नंबर 2-3 पर सुविधा विस्तार के नाम पर कुछ भी नहीं हुआ। यहां तक की मूलभूत जरूरत है पीने के पानी को भी यात्रियों को उपलब्ध नहीं हो पाया। बारिश व गर्मी में यात्रियों को बगैर शेड के खड़े होना पड़ता है। जहां तक यात्री ट्रेनों की बात है तो सभी अनियमित चल रही हैं। इसको लेकर हर रोज यहां के लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। परिवार के साथ सफर करने वालों की परेशानी का तो कोई सीमा ही नहीं होती है। बावजूद इसके रेलवे का ध्यान यात्रियों की ओर नहीं के बराबर है।

400 फार्म आ रहा काउंटर पर: दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के सीनियर डीसीएम विकास कश्यप के अनुसार स्टेशन के आरक्षण केन्द्र पर एक दिन में मात्र 250 लोग ही सुविधा ले रहे हैं। जिसके कारण काउंटर बढ़ाने की जरूरत नहीं पड़ रही है। जबकि हकीकत यह है कि एक दिन में काउंटर पर 400 रिजर्वेशन फार्म जमा हो रहे हैं। जिस तरह रिजर्वेशन कराने वालों की संख्या सामने आ रही है उससे काउंटर बढ़ाने की जरूरत है।

प्लेटफार्म 2 और 3 पर सुविधाओं का विस्तार किया, लेकिन यात्रियों को पानी तक नहीं मिलता

हर ट्रेन 2 से 6 घंटे तक ट्रेनें हो रहीं लेट

कोरबा को जोड़ने अप व डाउन दिशा से चलने वाली कोई भी ट्रेन चाहे एक्सप्रेस हो या पैसेंजर सभी कम से कम 2 तो अधिकतम 6 घंटे लेट अक्सर लेट हो रही हैं। कभी कभी तो यात्रियों से विवाद न हो यह सोचकर यहां से राइट टाइम रवाना कर दिया जाता है लेकिन चांपा पहुंचते पहुंचते 2 से ढाई घंटे लग जाते हैं। यात्री उस समय परेशान हो जाते हैं जब उन्हें आगे की यात्रा के लिए किसी ट्रेन का कनेक्शन लेना होता है।

3 यात्री ट्रेनों को कर दिया है 50 दिन के लिए बंद

फरवरी 2018 से लेकर अब तक रेलवे लगातार कहीं न कहीं मेंटेनेंस के नाम पर ब्लाॅक लेता रहा है। चाहे चांपा से रायगढ़ रूट पर ही मेंटेनेंस क्यों न कराया जा रहा हो। रेलवे यहां से चलने वाली यात्री ट्रेनों को रद्द करने में कभी पीछे नहीं रहा। लेकिन यह पहला मौका है जब 3-3 ट्रेनों को 50 दिन के लिए रद्द किया गया हो।

सामान्य स्थिति में है कोल डिस्पैच

रेलवे स्टेशन के सामने लगी यात्रियों की भीड़।

रेलखंड कोरबा के क्षेत्रीय प्रबंधक एके सिंह ने बताया कि कोल डिस्पैच का दबाव उन पर अधिक है। इसके बाद भी यात्रियों की सुविधा का पूरा ख्याल रखा जा रहा है। चांपा में ट्रैक की स्थिति सामान्य नहीं होने के कारण अधिकांश सवारी गाड़ियां विलंब से चल रही हैं। जिसे सामान्य स्थिति में लाने पूरा प्रयास किया जा रहा है। कोल डिस्पैच भी सामान्य स्थिति में है।

रेलवे को स्पष्ट करना चाहिए मूल कारण: अग्रवाल

रेल मामलों के जानकारी व चेंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के जिला उपाध्यक्ष रामकिशन अग्रवाल का कहना है कि यात्रियों की परेशानी से रेलवे का नाता नहीं रह गया है। बीते एक साल से अनियमित परिचालन के बाद सत्र के अंत में इतनी बड़ी अव्यवस्था के पीछे मूल कारण क्या है रेलवे को स्पष्ट करना चाहिए।

प्रतिदिन 40 से अधिक रेक भेजा जा रहा कोयला

34 रेक कोयला प्रतिदिन डिस्पैच करने वाला कोरबा पिछले डेढ़ माह से 40 से अधिक रेक कोयला बाहर भेज रहा है। हाल ही में एक दिन में सर्वाधिक 44 रैक कोयला डिस्पैच करने का रिकार्ड बना है। इसके बाद भी यहां के यात्रियों को सुविधा देने की बजाय यात्री ट्रेनों को बंद करने की उत्सुकता अफसरों में बनी हुई है।

यह है नियम

रेलवे के नियमानुसार रिजर्वेशन के एक काउंटर पर एक टाइम में 60 फार्म पहुंचने चाहिए। इस स्थिति में दूसरा, फिर तीसरा काउंटर शुरू किया जाना चाहिए। लेकिन यहां एक दिन में 400 फार्म दो काउंटर से मिल रहे हैं। स्वाभाविक है एक टाइम में 200 फार्म पहुंच रहे हैं ऐसे में काउंटर बढ़ाना जरुरी है। परन्तु मंडल में बैठे अफसरों का ध्यान काउंटर बढ़ाने की ओर नहीं जा रहा।

आज व कल बिलासपुर से चलेगी शिवनाथ एक्सप्रेस

गाड़ी संख्या 18240 इतवारी-गेवरा शिवनाथ एक्सप्रेस विलम्ब से चल रही है जिसके कारण यात्रियों को काफी असुविधा हो रही है। यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए इसे सही समय पर चलाने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए 14 व 15 फरवरी को 58212 बिलासपुर-गेवरा पैसेंजर तथा 18239 गेवरा-इतवारी शिवनाथ एक्सप्रेस को गेवरा एवं बिलासपुर के मध्य रद्द किया गया है। इन दोनों दिन 18239 गेवरा-इतवारी शिवनाथ एक्सप्रेस बिलासपुर व इतवारी के मध्य चलेगी।

X
Korba News - chhattisgarh news railway reservation center has 8 counters people have to do just one reservation
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन