--Advertisement--

भू-विस्थापितों के साथ त्रिपक्षीय वार्ता में नहीं बनी सहमति, निराकरण के लिए शिविर अाज

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 02:50 AM IST

Korba News - भास्कर संवाददाता| कोरबा-पाली एसईसीएल की सराईपाली परियोजना से कोयला उत्खनन को लेकर जारी गतिरोध खत्म नहीं हो रहा...

Korba News - chhattisgarh news the agreement not made in the tripartite talks with the displaced persons
भास्कर संवाददाता| कोरबा-पाली

एसईसीएल की सराईपाली परियोजना से कोयला उत्खनन को लेकर जारी गतिरोध खत्म नहीं हो रहा है। ग्रामीणों ने नौकरी, पुनर्वास, मुआवजा व अन्य मुद्दों को लेकर खदान का काम बंद करा दिया है। एक दिन पहले भू-विस्थापितों की एसडीएम की उपस्थिति में हुई त्रिपक्षीय वार्ता में कोई सहमति नहीं बन पाई। अब सोमवार को फिर गांव में बैठक कर अंतिम निर्णय लेने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है।

एसईसीएल कोरबा क्षेत्र की ग्राम बुड़बुड़ व राडाहीह में सरईपाली परियोजना से कोयला उत्पादन किया जाना है। लेकिन यहां के ग्रामीण नौकरी, मुआवजा व पुनर्वास की मांग कर रहे हैं। खाताधारी विवाहित महिलाओं को भी नौकरी देने की मांग रखी गई है। एसडीएम राजेंद्र गुप्ता की उपस्थिति में एसईसीएल के अफसर व ग्रामीणों की त्रि-पक्षीय बैठक हुई। ग्रामीण अपनी मांग पूरा होने का इंतजार कर रहे हैं, पर अभी तक समस्या का निदान नहीं हो सका। अब कोयला उत्खनन तभी शुरू करने दिया जाएगा,जब मांग पूरी होगी। प्रशासन व एसईसीएल प्रबंधन के अफसरों ने समझाइश दी पर ग्रामीणों के अड़े रहने से सहमति नहीं बन सकी। इससे पहले हुए बैठक में तहसीलदार जगतराम शतरंज, नायब तहसीलदार प्रांजल , थाना प्रभारी आरएस मिश्रा, एसईसीएल के महाप्रबंधक बबन सिंह, डिप्टी जीएम आरके बजाज, नोडल अधिकारी समेत अन्य मौजूद रहे।

माता चौरा पाली में आज लगेगा शिविर

जनप्रतिनिधि, ग्रामीणजनों को एसडीएम की ओर से कहा गया है कि ग्राम स्तर पर शिविर लगा सर्वे सूची का आंकलन किया जाए व फाइल एक हफ्ते के अंदर उपलब्ध कराया जाए। इसके लिए सोमवार दोपहर 1 बजे ग्राम पंचायत बुड़बुड के माता चौरा के पास पाली तहसीलदार व एसईसीएल अधिकारी शिविर लगा गांव स्तर की समस्याओं का निराकरण करेंगे।

एक पखवाड़े से खदान

में बंद है कार्य

ग्रामीण बार-बार काम बंद करा रहे हैं। इसलिए खदान लगातार झंझावत झेल रही है। पिछले 15 दिन से खदान का काम बंद है। इस दौरान चार बार बैठक हो चुकी है। पर सकारात्मक निर्णय नहीं निकल सका है। उत्पादन शुरू करने का प्रयास प्रबंधन लगातार कर रहा है। ताकि कंपनी को टारगेट मिल सके। इसके बावजूद सफलता नहीं मिल रही है।

X
Korba News - chhattisgarh news the agreement not made in the tripartite talks with the displaced persons
Astrology

Recommended

Click to listen..