पिछली सरकार ने शिक्षा का स्तर गिराया क्लीन स्कूल-ग्रीन स्कूल हमारा नारा: टेकाम

Korba News - प्रदेश के शिक्षा मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने शनिवार को एजुकेशन हब में आयोजित जिला...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:10 AM IST
Korba News - chhattisgarh news the previous government dropped the level of education clean school green school our slogan tikam
प्रदेश के शिक्षा मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने शनिवार को एजुकेशन हब में आयोजित जिला स्तरीय प्रवेश उत्सव में पिछली भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्हांेने कहा कि पिछली सरकार की शिक्षा नीति ने पूरे एजुकेशन सिस्टम की गुणवत्ता को गिरा दिया। बिना परीक्षा के बच्चों को पास करने की उनकी योजना कारगर तो नहीं हुई उल्टे हमारे स्कूल के बच्चे पढ़ाई में कमजोर होते चले गए। अब ऐसा नहीं होगा। शिक्षा के स्तर को एजुकेशन हब के ऊंचे भवन की तरह फिर से नई ऊंचाई पर ले जाना है। हमारा नारा क्लीन स्कूल-ग्रीन स्कूल है।

शिक्षा मंत्री टेकाम ने प्रवेश लेने वाले बच्चों का तिलक लगाकर स्वागत किया। इसके बाद पुस्तक वितरण किया गया। शासन की महत्वपूर्ण योजना सोन चिरई का भी शुभारंभ किया। उनके साथ राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, महापौर रेणु अग्रवाल, विधायक मोहित केरकेट्‌टा, पुरूषोत्तम कंवर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष अजय जायसवाल भी मौजूद थे। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिले में खनिज संपदा की कमी नहीं है। खनिज न्यास मद से स्कूल भवन बनाने के साथ ही शिक्षकों की भर्ती की जाएगी। पिछली सरकार ने आऊटसोर्सिंग को बढ़ावा दिया था। अब ऐसा नहीं होगा। स्कूल के बच्चों के साथ ही शिक्षकों का भी नियमित टेस्ट हो। स्वागत भाषण कलेक्टर किरण कौशल ने दी। उन्होंने बताया कि शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारने के लिए प्रयास किया जा रहा है। आने वाले समय में इसका प्रभाव भी देखने को मिलेगा। पाली-तानाखार विधायक मोहित केरकेट्‌टा ने भी शासन की योजना को सराहा। कटघोरा विधायक पुरूषोत्तम कंवर ने मुख्यमंत्री के साथ शिक्षा मंत्री व राजस्व मंत्री का नई योजना की शुरूआत के लिए आभार जताया। जिला पंचायत उपाध्यक्ष अजय जायसवाल ने कहा कि गांव, गरीब व किसानों का शासन की योजनाओं से विकास हो रहा है। आरटीई की दायरा 12 वीं तक करने से छात्र-छात्राओं को लाभ मिल रहा है। एकलव्य आवासीय विद्यालय छुरी की छात्राओं ने मनमोहन नृत्य की प्रस्तुति दी। इसकी रचना स्कूल के प्राचार्य जेआर राजपूत ने की थी। जिसके बोल चला-चला भरती तिहार आ गे है। सांस्कृतिक नृत्य के दौरान बच्चों ने करतब दिखाए। जिसे सभी ने सराहा। कार्यक्रम में एसपी जितेन्द्र सिंह मीणा, जिला शिक्षाधिकारी सतीष पांडे, बीईओ डी लाल, टीपी उपाध्याय समेत अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। शिक्षा मंत्री टेकाम को जिला पंचायत उपाध्यक्ष अजय जायसवाल ने छात्रावास के संचालन में हो रही समस्या से अवगत कराया। इस पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि संचालन के लिए डीएमएफ से राशि मिलेगी। किसी भी छात्र को छात्रावास से निकालने की जरूरत नहीं है। शिक्षकों की भर्ती के साथ ही छात्रों की पढ़ाई के लिए पैसे की कमी नहीं होने दी जाएगी। किसी भी छात्र को बाहर निकालने की जरूरत नहीं है। प्रभारी मंत्री के पहले प्रवास पर ही संगठन के कई नेता नजर नहीं आए। हरीश परसाई, शहर अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद, डॉ. शेख इश्तियाक, विकास सिंह, छुरी नगर पंचायत अध्यक्ष अशोक देवांगन, दारा सिंह मरकाम, एफडी मानिकपुरी, महेश अग्रवाल, दिनेश सोनी, महेन्द्र थवाईत, पूर्व जनपद उपाध्यक्ष रज्जाक अली पूरे कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे। कांग्रेस के कई संगठनों में सक्रिय रहने वाले जिला व ब्लाक पदाधिकारी नहीं दिखे। प्रभारी मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने जिला पंचायत में समीक्षा बैठक ली। शुरूआत में ही सड़काें की दुर्दशा को लेकर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि सड़कों की मरम्मत व नए सिरे से निर्माण समय सीमा पर हो जाना चाहिए। इसके बाद एक-एक कर अधिकारियों ने अपने विभागों की जानकारी दी। दोपहर 12 बजे शुरू हुई बैठक 2.30 बजे समाप्त हुई। ढाई घंटे में 21 से अधिक विभागों की जानकारी लेने में ही लग गया। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने भी सड़कों की मरम्मत नहीं होने पर नाराजगी जताई। बैठक में कलेक्टर किरण कौशल, एसपी जितेन्द्र सिंह मीणा, जिला पंचायत सीईओ एस जयवर्धने, डीएफओ एस वेंकटाचलम, डीडी संत समेत सभी विभाग प्रमुख मौजूद रहे। इसके बाद प्रभारी मंत्री ने शाम को करतला ब्लाक के पठियापाली में मिडिल स्कूल भवन का लोकार्पण किया। यहां से वे रायपुर के लिए रवाना हो गए।

सोन चिरई से छात्राओं को मिलेगा पोषण आहार

सोन चिरई योजना पायलेट प्रोजेक्ट के तहत कटघोरा ब्लाक में शनिवार से शुरू हो गया है। इसके तहत छात्राओं के स्वास्थ्य व पोषण पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिले का कुपोषण दर 45 प्रतिशत है। इस योजना से छात्राओं के स्वास्थ्य, पोषण आहार व व्यक्तित्व विकास की दिशा में काम किया जाएगा। साथ ही गर्भवती व शिशुवती माताओं को भी पोषण आहार सुपोषित जननी योजना शुरू की गई है।

X
Korba News - chhattisgarh news the previous government dropped the level of education clean school green school our slogan tikam
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना