• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Korba
  • Korba News chhattisgarh news the warning of the minister in charge if the condition of roads is not improved then the government will not get help

प्रभारी मंत्री की चेतावनी- सड़कों की हालत नहीं सुधरी तो शासन से नहीं मिलेगा सहयोग

Korba News - प्रदेश के शिक्षा, आदिम जाति कल्याण, पिछड़ा वर्ग व सहकारिता मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:05 AM IST
Korba News - chhattisgarh news the warning of the minister in charge if the condition of roads is not improved then the government will not get help
प्रदेश के शिक्षा, आदिम जाति कल्याण, पिछड़ा वर्ग व सहकारिता मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने एसईसीएल, बालको, लैंको समेत सार्वजनिक संस्थाओं को चेतावनी दी है कि अगर सड़कों की हालत नहीं सुधरी तो आगे वे भी शासन से सहयोग की उम्मीद न करें।

अगर कोयला निकाल रहे हैं तो सड़क भी बनाना होगा। प्रबंधनों को भी शासन से कई तरह की अनुमति लेनी पड़ती है। जिले में सबसे अधिक समस्या सड़क की है। डीएमएफ में पिछले सरकार के कार्यकाल में भारी गड़बड़ी हुई थी। जो काम नहीं होना था वह भी हो गया। अब आगे ऐसा नहीं होगा। शिक्षा, स्वास्थ्य व कुपोषण के साथ विकास कार्यों पर लगाया जाएगा। टेकाम शनिवार को तिलक भवन में प्रेस से मिलिए कार्यक्रम मेंं पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। इसके पहले उन्होंने जिला प्रशासन की बैठक में योजनाओं की समीक्षा की। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जो कार्य अधूरे पड़े हैं उसे समय-सीमा पर पूर्ण करने अधिकारियों को कहा गया है। डीएमएफ की शीघ्र ही बैठक होगी। जहां डॉक्टरों की कमी है वहां भर्ती करते हुए डीएमएफ से वेतन दिया जाएगा। शिक्षकों की भर्ती भी की जा रही है। हॉट बाजारों में स्वास्थ्य सेवाओं के लिए दो-दो मोबाइल यूनिट हर ब्लाक में रहेगी। छात्र-छात्राओं को शिक्षा के लिए कैरियर गाइडेंस के लिए कक्षाएं भी लगाई जाएगी। डीएमएफ में रोजगारमूलक व परिवारमूलक कार्यों में अधिक राशि खर्च होगी। उन्होंने कहा कि डीएमएफ में गड़बड़ी की जांच चल रही है। लोकसभा चुनाव के कारण सरकार को काम करने का कम समय मिला है। इसकी वजह से अब जांच आगे बढ़ेगी। अधिकारियों के तबादले पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि परफॉरमेंस के आधार पर किया जाएगा। इस मौके पर विधायक पुुरुषोत्तम कंवर, मोहित केरकेट्‌टा, पूर्व विधायक श्यामलाल कंवर, , हरीश परसाई, राजकिशेार प्रसाद, जिला पंचायत उपाध्यक्ष अजय जायसवाल, दिनेश सोनी, महेश अग्रवाल मौजूद थे।

पत्रकारों से चर्चा करते प्रभारी मंत्री टेकाम, राजस्व मंत्री अग्रवाल व विधायक।

जिनके दस्तखत से करोड़ों का बंदरबाट हुआ वे भी दायरे में: राजस्व मंत्री अग्रवाल

राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि डीएमएफ में हुई गड़बड़ी की जांच चल रही है। भाजपा सरकार के कार्यकाल में लाखों-करोड़ों की गड़बड़ी हुई है। इस मामले में अभी तक आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त श्रीकांत दुबे को निलंबित किया गया है। इसमें यह भी देखना होगा कि किसकी शह पर निचले स्तर के अधिकारियों ने गड़बड़ी की। राशि का आवंटन किसने किया, किसके दस्तखत से करोड़ों रुपए की बंदरबाट हुई। आने वाले समय में कई बड़े अधिकारी जांच के दायरे में होंगे। अन्य योजनाओं में भी गड़बड़ियों की जांच कराई जा रही है।

मेकाहारा की तरह हो जिले का हर अस्पताल

प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिले की स्वास्थ्य सुविधाएं व अस्पतालों की संख्या कम है। काेरबा प्रदेश की ऊर्जा राजधानी है। जिस हिसाब से यहां के लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं मिलनी चाहिए वह नहीं मिल पा रही है। लोगांे को बाहर इलाज कराने जाना पड़ता है। यह चिंता की बात है। उनका प्रयास रहेगा कि जिला अस्पताल भी रायपुर के मेकाहारा अस्पताल की तरह सर्व सुविधायुक्त हो। खनिज न्यास से नए व पुराने अस्पतालों में डॉक्टर व स्टॉफ नर्स की भर्ती की जाएगी और भी सुविधाएं देने का प्रयास होगा।

X
Korba News - chhattisgarh news the warning of the minister in charge if the condition of roads is not improved then the government will not get help
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना