Hindi News »Chhatisgarh »Korba» औद्योगिक स्वास्थ्य विभाग ने हादसा स्थल को कराया सील, प्रबंधन की लापरवाही उजागर

औद्योगिक स्वास्थ्य विभाग ने हादसा स्थल को कराया सील, प्रबंधन की लापरवाही उजागर

डीएसपीएम प्लांट में पैनल ब्लास्ट की घटना में गंभीर रुप से झुलसे इंजीनियर नितेश सिंह परिहार का रायुपर में उपचार चल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 02:55 AM IST

डीएसपीएम प्लांट में पैनल ब्लास्ट की घटना में गंभीर रुप से झुलसे इंजीनियर नितेश सिंह परिहार का रायुपर में उपचार चल रहा है। इधर घटना के दूसरे दिन शुक्रवार को उद्योगिक स्वास्थ्य व सुरक्षा विभाग की टीम प्लांट के भीतर हादसा स्थल का निरीक्षण किया। विभाग ने घटना को लेकर प्लांट के जिम्मेदार अफसरों से जानकारी ली है। एहतियात के तौर पर हादसा स्थल पर काम बंद करा दिया है। प्रारंभिक जांच के दौरान प्रबंधन की लापरवाही सामने आई है। औद्योगिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा विभाग के सहायक संचालक विजय सोनी ने बताया कि घटना की गंभीरता को देखते हुए मौके पर फिलहाल काम बंद कराने प्रबंधन के अधिकारियों को कहा गया है और घटना स्थल सील करा दिया गया है। हादसे में गंभीर रुप से झुलसे इंजीनियर नितेष परिहार के बेहतर इलाज के प्रबंधन को जरुरी कदम उठाने कहा गया है। प्रबंधन से अन्य बिंदुओं पर भी जानकारी मांगी गई है। वहीं प्रबंधन को व्यवस्था में सुधार के लिए कहा गया है। विभाग के अनुसार प्लांट का पुन: निरीक्षण कर हादसे से जुड़े मसले पर प्रबंधन की अधिकारियों से चर्चा की जाएगी। जांच के बाद आगे जरुरी कदम उठाने की बात भी कही गई है।

झुलसे इंजीनियर का रायपुर में चल रहा इलाज, प्रबंधन उठाएगा इलाज का खर्च

कंट्रोल पैनल, जहां हुई थी दुर्घटना।

कर्मचारियों की कमी से बढ़ा खतरा

राज्य पावर जेनरेशन कंपनी के बिजली प्लांटों में पुराने व अनुभवी अधिकारी व कर्मचारी तेजी से रिटायर हो रहे हैं। ऐसे में बिजली प्लांट में कर्मचारियों की कमी है। इसका असर प्लांट के कामों के साथ-साथ अधिकारी कर्मचारियों पर मानसिक दबाव के रुप में देखने को मिल रहा है। प्लांटों में आए दिन छोटी बड़ी दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं। कर्मचारी संगठनों ने इस समस्या पर गंभीरता से ध्यान देने की मांग की है।

अधिकांश आइसोलेटर खराब

इस हादसे के बाद प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने अाई है। जेनरेशन कंपनी के बिजली प्लांटों में पैनल के अधिकांश आइसोलेटर खराब हैं। ऐसे में अधिकारी कर्मचारियों को पेनल का दरवाजा खोलकर फ्लायर से सप्लाई चालू व बंद करना पड़ता है। इस बार भी इसी कारण हादसा होने की बात कही जा रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Korba

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×