कोरबा

  • Hindi News
  • Chhattisgarh News
  • Korba News
  • आयुष्मान भारत योजना के पैकेज की दर स्मार्ट कार्ड से भी कम, इलाज के लिए तैयार नहीं हो रहे डॉक्टर
--Advertisement--

आयुष्मान भारत योजना के पैकेज की दर स्मार्ट कार्ड से भी कम, इलाज के लिए तैयार नहीं हो रहे डॉक्टर

गरीब परिवार के लोगों की बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए आयुष्मान भारत योजना 15 अगस्त से लांच हो रही है। जिसमें गरीब...

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2018, 02:55 AM IST
गरीब परिवार के लोगों की बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए आयुष्मान भारत योजना 15 अगस्त से लांच हो रही है। जिसमें गरीब परिवार के सदस्यों को 5 लाख तक का मुफ्त इलाज होगा। जिले में इस योजना का लाभ 1 लाख 98 हजार परिवारों को मिलेगा। जिसमें 47 हजार परिवार शहरी क्षेत्र में रहने वाले हैं। लेकिन इस योजना में इलाज देने के लिए शहर के डॉक्टर तैयार नहीं हो रहे हैं। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए)के कोरबा इकाई से जुड़े डॉक्टरों ने इलाज के पैकेज का दर पीएमएसबीवाई व एमएसबीवाई के स्मार्ट कार्ड से 40 फीसदी कम बताते हुए इसे बढ़ाने की मांग की है। आईएमए के अनुसार जब तक योजना के पैकेज रेट में बढ़ोतरी नहीं होगी तब तक योजना के तहत इलाज नहीं होगा। एसोसिएशन ने बैठक करके प्रस्ताव भी आईएमए रायपुर को भेज दिया है। केंद्र सरकार यदि इलाज के लिए पैकेज का दर नहीं बढ़ाती है तो संभवत: शहर के निजी अस्पतालों में एक माह बाद शुरू होने वाले महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

कई माह देरी से भुगतान, डॉक्टर परेशान: एक डॉक्टर ने बताया कि निजी अस्पतालों में स्मार्ट कार्ड से इलाज की सुविधा है। इलाज के बाद बीमा कंपनी को क्लेम करना पड़ता है। लेकिन बीमा कंपनी एक तो देरी से इलाज के पैकेज में तय दर का भुगतान करती हैं। वहीं दूसरी ओर कई केस में शर्त बताकर क्लेम लौटते हुए राशि का भुगतान नहीं किया जाता है। इसलिए डॉक्टर परेशान रहते हैं।

योजना में पैकेज का दर कम, नहीं करेंगे इलाज

आईएमए के कोरबा इकाई सचिव डॉ. मंजुला साहू ने बताया कि आयुष्मान भारत योजना में इलाज के पैकेज के दर कम हैं। इसलिए एसोसिएशन ने इस योजना में इलाज नहीं करने का निर्णय लिया है। पूरे प्रदेश में ऐसी ही स्थिति है।

डॉक्टरों से की जाएगी चर्चा इलाज की सुविधा मिलेगी

सीएमएचओ डॉ. पीएस सिसोदिया ने बताया कि आईएमए या निजी डॉक्टरों ने आयुष्मान भारत योजना से इलाज नहीं करने के संबंध में अभी तक कोई सूचना नहीं दी है। योजना का बेहतर लाभ दिलाने के लिए डॉक्टरों से चर्चा की जाएगी।

X
Click to listen..