--Advertisement--

कंचन अब पांचों अंगुलियों का कर सकेगी उपयोग

ग्राम गुमिया के शासकीय प्राइमरी स्कूल में दूसरी कक्षा की छात्र कंचन अपने हाथ की पांचों अंगुलियों का आसानी से...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:00 AM IST
ग्राम गुमिया के शासकीय प्राइमरी स्कूल में दूसरी कक्षा की छात्र कंचन अपने हाथ की पांचों अंगुलियों का आसानी से उपयोग कर सकेगी। इससे उसे पढ़ने लिखने में अब कोई दिक्कत नहीं होगी।

उसके एक हाथ की दो अंगुली जन्म से ही आपस में जुड़ी थीं। जिससे उसे अपने काम करने के साथ पढ़ने लिखने में परेशानी हो रही थी। परिजन भी उसे लेकर चिंतित थे। सफल ऑपरेशन के बाद बच्ची के साथ परिजन भी राहत में हैं। बच्ची को राहत दिलाने में एसपी मयंक श्रीवास्तव के साथ छत्तीसगढ़ हेल्प वेलफेयर सोसायटी के सदस्यों का सहयोग रहा। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम शिक्षा गुणवत्ता अभियान के तहत जिला मुख्यालय से 30 किलोमीटर दूर स्थित गांव गुमिया के शासकीय प्रायमरी स्कूल का निरीक्षण करने बीते माह एसपी मयंक श्रीवास्तव गए हुए थे। जहां दूसरी कक्षा में पढ़ने वाली कंचन पर उनकी नजर पड़ी जो उनके हर सवालों का जवाब बड़ी तत्परता से दे रही थी। पढ़ाई के प्रति उसकी लगन को देखकर एसपी श्रीवास्तव ने उसे प्रोत्साहित किया। इस दौरान उनकी नजर कंचन के हाथों में चिपकी दो अंगुली पर पड़ी। उससे होने वाली परेशानी को उन्होंने कंचन से पूछा और तभी उन्होंने उसका इलाज कराकर राहत दिलाने की सोच ली थी। एक सप्ताह पूर्व उस बच्ची के संपर्क में छत्तीसगढ़ हेल्प वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष राणा मुखर्जी व अन्य कार्यकर्ता आए और उसके परिजनों से मिलकर उपचार कराने प्रेरित किया। परिजन तैयार हुए और बच्ची को लेकर कोरबा आ गए। परिवार का स्मार्ट कार्ड बना हुआ है जिसमें मात्र 15 हजार रुपए बचे थे, लेकिन ऑपरेशन का खर्च अधिक आ रहा था। जिसे सोसायटी ने वहन करने का जिम्मा ले लिया। सृष्टि हॉस्पिटल में बच्ची को उपचार के लिए दाखिला कराया गया। जहां डॉ.बृजलाल कवाची व उनकी टीम ने उसका सफलता पूर्वक ऑपरेशन कर चिपकी अंगुली को अलग कर दिया। सफलता पूर्व आपेशन के बाद सोसायटी के सदस्यों के साथ कंचन को लेकर उसके पिता एसपी से सोमवार को मुलाकात करने पहुंचे थे। जहां एसपी श्रीवास्तव ने कंचन को चाकलेट देकर प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर प्रभजोत कौर, आदित्य सिंह राजपूत साथ थे।

एसपी की पहल व हेल्प वेलफेयर सोसाइटी के सहयोग से आपस में जुड़ी अंगुली का हुआ सफल ऑपरेशन