Hindi News »Chhatisgarh »Korba» पाली ब्लाॅक के बच्चों को गर्मी की छुटि्टयों में भी मिलेगा मिड डे मील

पाली ब्लाॅक के बच्चों को गर्मी की छुटि्टयों में भी मिलेगा मिड डे मील

जिले के 5 में से 1 पाली ब्लाक के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को गर्मी की छुट्‌टी में भी मध्यान्ह भोजन मिलेगा।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 03:05 AM IST

जिले के 5 में से 1 पाली ब्लाक के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को गर्मी की छुट्‌टी में भी मध्यान्ह भोजन मिलेगा। मध्यान्ह भोजन की अवधि में बच्चे स्कूल पहुंचेंगे और खाना खाने के बाद वापस अपने घर लौट जाएंगे। इस आशय के निर्देश स्कूल शिक्षा विभाग ने सूखा प्रभावित जिला या ब्लाक के लिए जारी किए हैं।

अल्पवर्षा के कारण किसान सूखे की मार से जूझ रहे हैं। खासकर पाली ब्लाक के ग्रामीण अंचल में सामने आ रही आर्थिक समस्या से यथासंभव राहत देने इस वर्ष कुछ खास इंतजाम किए जा रहे हैं। इनमें एक ओर फसल मुआवजे के प्रकरण तैयार कर राहत राशि की व्यवस्था की जा रही। वहीं बीमा योजनाओं का मरहम लगाया जा रहा। इसी कड़ी में स्कूली बच्चों की फिक्र करते हुए एक और व्यवस्था की जा रही है। सूखे की परेशानी का असर स्कूली बच्चों की सेहत पर न पड़े, इसके लिए मध्यान्ह भोजन की उपलब्धता का दायरा बढ़ाया जा रहा है। बीते सत्र तक जहां स्कूलों में शैक्षणिक सत्र की समाप्ति तक मध्यान्ह भोजन पकाया गया, इस बार पूरे 12 माह बच्चों को मध्यान्ह भोजन की सुविधा पाली के स्कूलों में रहेगी। गर्मी की छुट्टियों के दौरान भी केवल बच्चों को भोजन कराने स्कूल खुलेंगे। भोजन खाकर बच्चे घर चले जाएंगे।

छुट्टियों के दौरान डेढ़ माह तक बच्चों काे लाभ मिलेगा

1 अप्रैल से स्कूलों का नया शैक्षणिक सत्र शुरू हो चुका है। यहां पढ़ाई चल रही है। 30 दिन बाद प्रारंभिक सत्र 30 अप्रैल को खत्म होगा। 1 मई से गर्मी की छुट्टियां लग जाएंगी। डेढ़ माह की छुट्टियों में स्कूलों के पट बंद रहेंगे। इसके बाद 16 जून को स्कूल खुलेंगे। छुट्टी के दौरान पाली ब्लाॅक के स्कूल बच्चों को केवल मध्यान्ह भोजन परोसने के लिए खुलेंगे।

क्षेत्र में प्राइमरी-मिडिल समेत कुल 456 स्कूल

नगर पंचायत पाली व ब्लाक में कुल 456 स्कूल हैं। जहां स्व-सहायता समूहों के माध्यम बच्चों को मध्यान्ह भोजन दिया जाता है। ग्रामीण क्षेत्र में संचालित मिडिल व प्राइमरी स्कूलों में मध्यान्ह भोजन दिए छुट्‌टी के दिन जारी रहने का 30 हजार बच्चों को लाभ मिलेगा। इससे सूखा से प्रभावित अभिभावकों को बच्चों के भोजन की चिंता नहीं करनी होगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Korba

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×