--Advertisement--

पटवारी ने एनएच में जमीन लाने का दिया झांसा, परिचितों के नाम करा ली रजिस्ट्री

कटघोरा क्षेत्र के सुतर्रा में एक पटवारी ने दो ग्रामीण को कटघोरा-बिलासपुर एनएच (नेशनल हाइवे) में उसकी जमीन लाने के...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 02:36 AM IST
Korba - patwari gave false assurance of bringing land in nh named after acquaintances registry
कटघोरा क्षेत्र के सुतर्रा में एक पटवारी ने दो ग्रामीण को कटघोरा-बिलासपुर एनएच (नेशनल हाइवे) में उसकी जमीन लाने के बहाने अपने दो लोगों के नाम से 14 डिसमिल जमीन रजिस्ट्री करवाकर हड़प ली। मामले के आवेदन पर कोर्ट ने कटघोरा पुलिस को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है।

कटघोरा थाना अंतर्गत सुतर्रा में ठंडा राम अपनी मां सुनी बाई के साथ निवासरत हैं। उसका पैतृक घर व जमीन सुतर्रा में है। ठंडा राम आरक्षित वर्ग का कम पढ़ा-लिखा है। जो किसानी करके घर चलाता है। बीते जून में ठंडा राम को सुतर्रा के पटवारी जितेंद्र कुमार पटेल ने अपने कार्यालय बुलाया। जहां पटवारी पटेल ने ठंडा राम से कहा कि तुम्हारी जमीन कटघोरा बाइपास एनएच से लगा हुआ है। लेकिन स्वामित्व वाला जमीन पीछे और कब्जा वाला जमीन सामने है। उसने आगे यह भी कहा कि तुम्हारे जमीन को एनएच पर लाने से अच्छा मुआवजा मिलेगा। वहीं इसके बदले जमीन के 5 टुकड़े करने को कहते हुए उसमें ठंडा राम के नाम से 3 व अपने दो परिचित के नाम से 2 टुकड़े करके बेचने को कहा। ठंडा राम व उसकी मां सुनी बाई पटवारी पटेल के झांसे में आ गए। उनके जमीन खसरा नंबर-41 में से 6 डिसमिल चंद्रशेखर व 8 डिसमिल जमीन चंद्रप्रताप के नाम से जून में कटघोरा के उप पंजीयक शाखा में रजिस्ट्री करवा दी गई। लेकिन इसके एवज में कोई रकम नहीं दिया गया। कई माह तक उसे घुमाया जा रहा था। इधर लंबे इंतजार के बाद भी जब जमीन के आसपास एनएच के लिए सर्वे नहीं हुआ तो ठंडा राम को संदेह हुआ। पतासाजी करने पर ठंडा राम को दूसरे स्थान पर एनएच सर्वे करके मुआवजा प्रकरण तैयारी की जानकारी मिली। इस तरह झांसे में लेकर जमीन को दूसरे लोगों के नाम से रजिस्ट्री कराने के मामले में कटघोरा पुलिस ने आरोपी पटवारी समेत अन्य दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज कर लिया है।

बाजार कीमत 11 लाख रुपए से ज्यादा

पटवारी जितेंद्र कुमार पटेल समेत चंद्रप्रताप व चंद्रशेखर ने मिलकर धोखाधड़ीपूर्वक जिस जमीन का रजिस्ट्री करवाकर हड़पी है उसकी बाजार कीमत क्रमश: 4 लाख 99 हजार व 6 लाख 65 हजार रुपए है। इस तरह जमीन की कुल कीमत 11 लाख से अधिक है। लेकिन ठंडा राम ने जमीन के एवज में कोई भी रकम नहीं मिलना व रजिस्ट्री की नकल निकलवाने पर उसमें 1 लाख रुपए के चेक का फोटोकॉपी चद्र प्रताप के बिक्री रजिस्ट्री में लगा होना बताया है।

पुलिस ने नहीं की कार्रवाई कोर्ट ने दिया आदेश

ठंडा राम ने अगस्त में घटना की लिखित शिकायत कटघोरा पुलिस से की थी। लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके बाद ठंडा राम ने कटघोरा के जेएमएफसी कोर्ट में आवेदन लगाया। आवेदन पर कोर्ट के मजिस्ट्रेट संतोष ठाकुर ने सुनवाई करते हुए गत दिनों कटघोरा पुलिस को मामले में धोखाधड़ी का एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। साथ ही मामले में अन्वेषण (जांच) कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा गया है।

X
Korba - patwari gave false assurance of bringing land in nh named after acquaintances registry
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..