• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Koria
  • अमेरिका लागू करेगा मेरिट बेस्ड वीसा, भारतीयों को होगा फायदा
--Advertisement--

अमेरिका लागू करेगा मेरिट बेस्ड वीसा, भारतीयों को होगा फायदा

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को पहली बार कांग्रेस के संयुक्त अधिवेशन स्टेट ऑफ द यूनियन को...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:05 AM IST
अमेरिका लागू करेगा मेरिट बेस्ड वीसा, भारतीयों को होगा फायदा
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को पहली बार कांग्रेस के संयुक्त अधिवेशन स्टेट ऑफ द यूनियन को संबोधित किया। अपने कार्यकाल के दूसरे साल के एजेंडे का ऐलान करते हुए ट्रम्प ने इमिग्रेशन सिस्टम में सुधार के लिए विपक्षी रिपब्लिकन पार्टी का समर्थन मांगा।

उन्होंने देश में मेरिट बेस्ड वीसा सिस्टम लागू करने का ऐलान किया। साथ ही वीसा जारी करने संबंधी मौजूदा लॉटरी सिस्टम खत्म करने की बात भी कही। उन्होंने चार स्तंभों वाली इमिग्रेशन योजना का खाका भी पेश किया। उन्होंने कहा कि योग्यता आधारित इमिग्रेशन प्रणाली की दिशा में बढ़ने का समय आ गया है। अब लॉटरी सिस्टम से वीसा देने की प्रक्रिया बंद की जाएगी। यह ऐसा प्रोग्राम था, जिसके जरिए अकुशल लोगों को भी ग्रीन कार्ड मिल जाता है। इसकी बजाय मेरिट के आधार पर ग्रीन कार्ड दिया जाएगा।

ट्रम्प बोले- देश को महान बनाने के कदम उठाए

ट्रम्प ने कहा कि अमेरिकी नागरिक दुनिया में सबसे ज्यादा सुरक्षित हैं। अमेरिका और मजबूत हुआ है, क्योंकि अमेरिकी लोग मजबूत हैं। हमने अमेरिका को और महान बनाने के लिए कदम उठाए हैं। उन्हाेंने दावा किया कि 45 साल में बेरोजगारी सबसे कम हो गई है, मुझे इस बात का गर्व है। अमेरिकी अफ्रीकियों में भी बेरोजगारी सबसे कम है। अमेरिकी हिस्पैनिक में भी इतिहास में बेरोजगारी सबसे कम है।

इमिग्रेशन रिफॉर्म्स में मांगा विपक्ष का साथ, कहा- अमेरिकी नागरिक दुनिया में सबसे अधिक सुरक्षित, 45 साल में बेराेजगारी सबसे कम हुई

कुशल पेशेवरों में 45 फीसदी भारतीय, इसलिए मिल सकता है अिधक लाभ

अमेरिका के आईटी और इंजीनियरिंग उद्योग में कुशल भारतीय पेशेवरों की संख्या 45 प्रतिशत है। यदि मेरिट आधारित इमिग्रेशन सिस्टम लागू हुआ, तो अन्य देशों की तुलना में भारतीयों को अधिक वीसा मिलने का रास्ता खुलेगा। अमेरिका में काम करने के लिए सबसे अधिक वीसा आवेदन भारतीय करते हैं। एच-1बी वीसा नियम सख्त किए जाने पर 7,50,000 भारतीयों को अमेरिका छोड़ना पड़ सकता है। मेरिट आधारित वीसा जारी किए जाने पर इन्हें इसका फायदा मिल सकता है।

स्टेट ऑफ यूनियन एड्रेस

स्टेट ऑफ यूनियन एड्रेस अमेरिकी राष्‍ट्रपति की ओर से दिया जाने वाला पारंपरिक संबोधन है। इसमें राष्‍ट्रपति कांग्रेस के दोनों सदनों की संयुक्‍त बैठक को संबोधित करते हैं।

चीन, रूस पर निशाना

ट्रम्प ने चीन और रूस पर निशाना साधते हुए कहा कि चीन और रूस अमेरिकी मूल्यों को चुनौती देते हैं।

अमेरिका ने 13 साल पहले गायब हुआ सैटेलाइट खोजा, उससे दोबारा संपर्क साधेगा

वाशिंगटन | अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने दावा किया है कि 13 साल पहले गायब हुआ उसका एक सैटेलाइट सही सलामत है। नासा के इमेजर फॉर मैग्नेटोपॉज-टू-ऑरोरा ग्लोबल एक्सप्लोरेशन (इमेज) ने 20 जनवरी को मिले इस उपग्रह की पहचान की है। अब नासा इस उपग्रह से फिर संपर्क साधने की कोशिश करेगा। नासा ने 25 मार्च 2000 को यह सैटेलाइट लॉन्च किया था। 18 दिसंबर 2005 को करीब इससे संपर्क टूट गया था। खगोलविद स्कॉट टिले ने हाल ही में अपने ब्लॉग में लिखा- मुझे इस सैटेलाइट से सिग्नल मिले हैं जिसपर ‘2000-017 ए, 26113 लिखा था।

ट्रम्प ने दावे किए:
बंद नहीं होगी गुआंतानामो बे जेल

ट्रम्प ने पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की गुआंतानामो बे जेल बंद करने की योजना को पलटते हुए इसे खुली रखने को कहा है। अपने संबोधन में ट्रम्प ने कहा कि उन्होंने रक्षा मंत्री से इस संबंध में सेना की नीतियाें की समीक्षा करने को कहा है। ट्रम्प ने कहा कि आईएसआईएस के गिरफ्तार आतंकियों को इस जेल में भेजा जाएगा।

भारतीय इंजीनियर की प|ी सुनयना दुमाला थीं मौजूद

ट्रम्प के इस पहले संबोधन को सुनने के लिए हेट क्राइम के शिकार हुए भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला की प|ी सुनयना दुमाला भी पहुंची थीं। दुमाला को सांसद केविन योडर ने बतौर गेस्ट आमंत्रित किया था। कुचिभोटला अमेरिकी नौसेना के एक रिटायर्ड व्यक्ति ने पिछले साल गोली मारकर हत्या कर दी थी।

आईएस, उत्तर कोरिया से खतरा

ट्रम्प ने आतंकवादी संगठन अाईएस और परमाणु हथियारों की होड़ में शामिल उत्तर कोरिया के खतरों से निपटने पर जोर दिया। देश को व्यापक विभाजनकारी स्थिति से बाहर निकालने पर जोर देते हुए उन्होंनेे कहा, “विभाजनकारी स्थिति हमारे देश में पिछले साल से नहीं, बल्कि कई वर्षों से बनी हुई है। हम अपने देश को एकजुट कर पाए तो यह हमारी सबसे बड़ी उपलब्धि होगी। यह आसान नहीं होगा, क्योंकि हमारे देश में विभिन्न विचार मौजूद हैं।’ ट्रम्प ने कहा, “हमें अपने मतभेद भुलाकर लोगों के हितों के लिए काम करना चाहिए।’

X
अमेरिका लागू करेगा मेरिट बेस्ड वीसा, भारतीयों को होगा फायदा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..