• Home
  • Chhattisgarh News
  • Koriya News
  • 64 साल पहले अमेरिका ने बिकिनी द्वीप समूह में हाइड्रोजन बम का सफल परीक्षण किया था
--Advertisement--

64 साल पहले अमेरिका ने बिकिनी द्वीप समूह में हाइड्रोजन बम का सफल परीक्षण किया था

64 साल पहले अमेरिका ने बिकिनी द्वीप समूह में हाइड्रोजन बम का सफल परीक्षण किया था आज ही के दिन 1954 में अमेरिका ने...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:10 AM IST
64 साल पहले अमेरिका ने बिकिनी द्वीप समूह में हाइड्रोजन बम का सफल परीक्षण किया था

आज ही के दिन 1954 में अमेरिका ने प्रशांत क्षेत्र में स्थित मार्शल द्वीपों के बिकिनी द्वीप समूह में हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया था। यह उस वक्त का सबसे शक्तिशाली परीक्षण था। इस दौरान 10 हजार किलोटन ऊर्जा पैदा हुई थी, जो हिरोशिमा और नागासाकी पर गिरे बम की तुलना में कई सौ गुना ज्यादा थी। यह विस्फोट इतना शक्तिशाली था कि इसकी तीव्रता को मापने के लिए लगाए यंत्र तक फेल हो गए थे। इससे वैज्ञानिकों ने यह निष्कर्ष निकाला था कि यह विस्फोट उनके अनुमान से ज्यादा शक्तिशाली था। विस्फोट की वजह से 160 किमी बड़ा मशरूम के आकार का बादल उठा और रेडियोधर्मी विकिरण के रूप में गिरा। बिकिनी में सबसे पहले 1946 में परीक्षण शुरू हुए थे। उस समय स्थानीय लोगों को रोंगेरिक द्वीप स्थानांतरित किया गया था।

खास बीते साल उत्तर कोरिया ने हाइड्रोजन बम के सफल परीक्षण का दावा किया था। माना जा रहा है कि उत्तर कोरिया के बम से 140 किलोटन ऊर्जा निकली होगी।