• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Koria
  • Baikunthpur News chhattisgarh news gopind singh39s light festival celebrated with joy distributed anchored anchor after aradas in guru
--Advertisement--

हर्षोल्लास से मनाया गुरु गोविंद सिंह का प्रकाश पर्व, गुरुद्वारे में अरदास के बाद अटूट लंगर बांटा

Koria News - भास्कर संवाददाता | मनेंद्रगढ़ सिखों के दशम गुरू तथा खालसा पंथ के संस्थापक व सर्ववंशदानी गुरु गोविंद सिंह का...

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 02:01 AM IST
Baikunthpur News - chhattisgarh news gopind singh39s light festival celebrated with joy distributed anchored anchor after aradas in guru
भास्कर संवाददाता | मनेंद्रगढ़

सिखों के दशम गुरू तथा खालसा पंथ के संस्थापक व सर्ववंशदानी गुरु गोविंद सिंह का प्रकाश पर्व रविवार को हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। राजधानी रायपुर से आए भाग सिंह व रागी जत्थे द्वारा गुरुद्वारा श्री गुरुसिंह सभा में शबद-कीर्तन व पाठ किया गया।

अरदास के बाद गुरु का अटूट लंगर बांटा गया। इसमें सभी धर्म-संप्रदाय के लोगों ने शामिल होकर भोग प्रसाद ग्रहण किया। रात साढ़े 9 से साढ़े 11 बजे तक रात्रिकालीन दीवान सजाया गया। इसके बाद अरदास के बाद आतिशबाजी के साथ समस्त आयोजनों की समाप्ति हुई।

प्रकाश पर्व को सफल बनाने गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा के अध्यक्ष गुरमीत सिंह, सचिव जसवीर सिंह रैना, कोषाध्यक्ष परमजीत सिंह कोहली, संपूरन सिंह, हरजीत चावला, हरजीत छाबड़ा, लक्की रैना, हर्ष चावला, गुरु बक्श छाबड़ा, जोगिंदर छाबड़ा, सुखविंदर छाबड़ा, शन्नू छाबड़ा, राजा, लवी, लवली, हरविंदर सिंह अरोरा, लक्की रैना, अमरजीत सिंह चौहान, मंजीत सिंह सहित समाज के लोगों ने अपना अतुलनीय योगदान दिया।

रात साढ़े 9 से साढ़े 11 बजे तक रात्रिकालीन दीवान सजाया गया, अरदास के बाद की आतिशबाजी

गुरु गोविंद सिंह का प्रकाश पर्व के दौरान गुरुद्वारा में अरदास करते सिख समाज के लोग। इस पावन मौके पर अटूट लंगर का आयोजन किया। लोगों ने प्रसादी ग्रहण की है।

अमर रहेगा गुरु गोविंद सिंह का नाम

गुरु सिंह सभा के अध्यक्ष सरदार गुरमीत सिंह ने श्री गुरु गोविंद सिंह के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हमारा देश महान है। यहां की पवित्र भूमि का कण-कण विभिन्न युगों में अवतरित होने वाली सात्विक आत्माओं की सुरभि से सुवासित है। जब-जब राष्ट्रीय अस्मिता पर संकट आया तब-तब युग पुरुषों का यहां अवतरण हुआ। दीन-दुखियों के मसीहा के रूप में श्री गुरु गोविंद सिंह का नाम अमर रहेगा।

सिख समाज ने रात को मनाया लोहड़ी पर्व

सिख समाज के लोगों ने रविवार की रात लोहड़ी पर्व मनाया। रात में लोहड़ी जलाई गई। समाज के लोगों ने लोहड़ी की परिक्रमा कर मक्का के फुल्लों को लोहड़ी में समर्पित कर एक-दूसरे को पर्व की बधाई दी। इस अवसर पर समाज के युवक-युवतियों ने ढोल-नगाड़ों पर गिद्धा व भांगड़ा नृत्य भी किया। मूंगफली, गुड़ व लाई का प्रसाद वितरण कर पारिवारिक सुख-समृद्धि की कामना की गई।

अखंड पाठ साहिब की समाप्ति के बाद हुआ लंगर

चिरमिरी|
गुरुगोविंदसिंह के 352वें प्रकाश पर्व पर रविवार को श्रीगुरुसिंह सभा गुरुद्वारा गोदरीपारा में दिनभर श्रद्धा और भक्ति का उजास फैला रहा। सुबह 9.30 बजे अखंड पाठ साहब की समाप्ति हुई। इसके बाद कीर्तन दरबार सजाया गया। ज्ञानीजी व समाजजन ने सिक्खी की दास्तां बयां की। दोपहर में गुरु का अटूट लंगर हुआ। लंगर का शहर के सैकड़ों लोगों ने प्रसादी ग्रहण कर लाभ लिया।

सिख धर्म के 10वें गुरु गोविंद सिंह की जयंती मनाई

बैकुंठपुर| जिले में रविवार को सिख समुदाय के द्वारा सिख धर्म के 10वें गुरु गोविंद सिंह की जयंती मनाई गई। इस अवसर पर सुबह से ही प्रेमाबाग स्थित गुरुद्वारे में सिख धर्म के अनुयायी मत्था टेकने पहुंच रहे थे। इसके साथ ही 12 बजे से भंडारे का आयोजन किया गया है। इसमें बड़ी संख्या में सिख समाज के अलावा अन्य समाज के लोग पहुंचे और भंडारे में प्रसाद ग्रहण किया। जिलें में लोहड़ी पर्व भी धूमधाम से मनाया। फसल की बुआई और कटाई से संबंध रखने वाले लोहड़ी के पर्व को नगर में धूमधाम से मनाया। नगर के श्री गुरु सिंह गुरुद्वारे पर सिख समाज के लोगों ने भंडारे का आयोजन किया। इस दौरान नगर के लोग गुरुद्वारा पहुंच कर मत्था टेकने के साथ खुशहाली की अरदास की गई। वहीं समाज के लोगों ने एक-दूसरे से गले मिलकर लोहड़ी पर्व की बधाई दिए और गुरद्वारे में आशीर्वाद लेने आए सिख समाज के लोगों क्षेत्र में अमन-चैन की कामना की है।

X
Baikunthpur News - chhattisgarh news gopind singh39s light festival celebrated with joy distributed anchored anchor after aradas in guru
Astrology

Recommended

Click to listen..