• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Lawan
  • ग्रामीण बोले दूषित हो रहा तालाब का पानी, मछली ठेका निरस्त हो
--Advertisement--

ग्रामीण बोले-दूषित हो रहा तालाब का पानी, मछली ठेका निरस्त हो

Dainik Bhaskar

Jul 27, 2018, 03:00 AM IST

Lawan News - लवन। सांसद गोद ग्राम पुरगांव के सभी निस्तारी योग्य तालाबों पर ग्राम पंचायत द्वारा यहां के मछुआरा समिति को लीज में...

ग्रामीण बोले-दूषित हो रहा तालाब का पानी, मछली ठेका निरस्त हो
लवन। सांसद गोद ग्राम पुरगांव के सभी निस्तारी योग्य तालाबों पर ग्राम पंचायत द्वारा यहां के मछुआरा समिति को लीज में दिया गया है। तालाबों को लीज में देने से गांव के सैकड़ों ग्रामीण लामबंद हो गए हैं। उन्होंने इसकी शिकायत कलेक्टर जनदर्शन में की गई है।

ग्रामीणों के के दिये हुए ज्ञापन के अनुसार सांसद गोद ग्राम पुरगांव में मछुआरा समितियों को तालाब लीज में दिया जा रहा है। लीज में दिये जाने से तालाब का पानी प्रदूषित हो रहा है। निस्तारी करने योग्य तालाब प्रदूषित होने से खुजली तथा अन्य गंभीर कई प्रकार की बीमारियां हो रही हैं। ज्ञात हो कि पुरगांव में पिछले तीन वर्षों से निस्तारी योग्य तालाब में मछली मारने से निस्तारी करने वाले ग्रामीणों को पीलिया व डायरिया जैसे गंभीर बीमारियां का सामना करना पड़ा है। इसकी वजह से पुरगांव के कई ग्रामीणों की मौत भी हो गई है। पिछले तीन वर्षों से लगातार पीलिया व डायरिया की चपेट में आने से ग्रामीणों में दहशत व्याप्त हो गई है। गांव के लोग एक-एक करके पीलिया की चपेट में आते जा रहे थे।

केमिकल का उपयोग किया जाता : मछुआरा समिति को तालाब लीज मिलने के बाद उसमें कई प्रकार हानिकारक केमिकल का उपयोग किया जाता है। इससे तालाब का पानी काफी प्रदूषित हो जाता है। वही ग्रामीणों ने बताया कि तालाब के ठेका को निरस्त करने के लिए पंचायत से सरपंच, पंच व ग्रामीणों की सहमति से पंचायत प्रस्ताव भी किया जा चुका है। यदि शीघ्र ही शासन द्वारा ठेका को तत्काल निरस्त नहीं किया जाता है तो मजबूरन आक्रोशित ग्रामीण उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। ज्ञापन सौंपने वाले में प्रमुख रूप से सरपंच भानूप्रताप साण्डे, राजेश डडसेना, सुभाष जायसवाल सहित ग्रामीण पहुंचे हुए थे।

X
ग्रामीण बोले-दूषित हो रहा तालाब का पानी, मछली ठेका निरस्त हो
Astrology

Recommended

Click to listen..