Hindi News »Chhatisgarh »Lawan» अपने को लाभ पहुंचाने जनप्रतिनिधि बहा रहे पानी, वार्ड-2 और 5 के लोग कर मशक्कत

अपने को लाभ पहुंचाने जनप्रतिनिधि बहा रहे पानी, वार्ड-2 और 5 के लोग कर मशक्कत

भास्कर न्यूज |मुण्डा बलौदाबाजार ब्लॉक के अन्तर्गत आने वाली ग्राम पंचायत कोरदा में एक तरफ तो लोग पेयजल संकट से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 03:05 AM IST

अपने को लाभ पहुंचाने जनप्रतिनिधि बहा रहे पानी, वार्ड-2 और 5 के लोग कर मशक्कत
भास्कर न्यूज |मुण्डा बलौदाबाजार

ब्लॉक के अन्तर्गत आने वाली ग्राम पंचायत कोरदा में एक तरफ तो लोग पेयजल संकट से त्रस्त हैं, वहीं दूसरी तरफ ग्राम पंचायत के जिम्मेदार प्रतिनिधि अपने व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से सैकड़ों लीटर पानी को व्यर्थ रोड पर बहा रहे हैं। जिससे आवागमन प्रभावित हो रहा है। वहीं दूसरी ओर वार्ड 2 व 5 के निवासियों को पीने के पानी के लिए हैंडपम्प के पास घंटों खड़े होकर मशक्कत करना पड़ रही है।

उक्त वार्ड के लोगों के लिए पीने के पानी के लिए यह जटिल समस्या विगत कई वर्षों से बनी हुई है। किन्तु आज पर्यन्त तक ग्राम पंचायत द्वारा इस जटिल समस्या को पहल करने कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। महिलाओं ने बताया कि एक-दो घंटे इंतजार करने के बाद बड़ी मुश्किल से एक-दो हौवला ही पानी निकल पाता है। गर्मी के दिनों हम मोहल्लेवासियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मोहल्लेवासियों ने बताया कि इस पर्यापारा मोहल्ल के लोगों ने सरकारी कुआं की मांग लोक सुराज शिविर में आवेदन देकर की है।

इसके अलावा हमारे क्षेत्र के क्षेत्रीय विधायक व विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल को भी अभी हाल में पद यात्रा में पहुंचने के दौरान कुआ खनन के लिए आवेदन दिया है। वार्ड 2,4 एवं 5 के रहवासियों के लिए केवल एक ही हैंडपम्प है इसी से पूरे मोहल्लेवासियों को गुजारा करना पड़ता है। हालांकि ग्राम पंचायत से मांग करने पर एक निजी कुंआ में पानी भर दिया गया है। इसी से आसपास के लोग पीने का पानी लेते हैं। लेकिन दूर रहने वाले लोग हेडपम्प पर आश्रित रहते हैं।

मुण्डा बलौदाबाजार. कोरदा में हैंडपंप से इस तरह लोग पानी भरने को मजबूर हैं।

लवन में दो तालाब, एक सालभर से सूखा, दूसरे का पानी गंदा, निस्तारी की समस्या

लवन| नगर पंचायत के वार्ड-2 और 3 के करीब एक हजार से भी अधिक नगर वासियों के लिए निस्तार पानी की गंभीर समस्या हो गई है। वार्ड-2 स्थित प्रमुख निस्तारी तालाब रामसागर पिछले एक साल से सूखा पड़ा है। इसी तरह वार्ड-3 स्थित जोरबा तालाब भी पिछले एक महीने से पानी गंदा होने के कारण बदबू आ रही है। इसके कारण निस्तार की गंभीर समस्या हो गई है। वार्ड वासी कार्तिक, आनंद, सुदे टंडन, कार्तिक बघेल, वार्ड पार्षद सुरेंद्र बघेल सहित अनेक लोगों ने गंगरेल बांध से पानी छोड़ने के बाद दोनों तलाब में पानी भरने की मांग की है।

तालाब सूखने से िनस्तारी की समस्या बालर जलाशय से पानी छोड़ने की मांग

सेल| गर्मी में क्षेत्र के कई गांवों का तालाब सूखने से निस्तारी की समस्या गहराने लगी है। ग्राम खैरा, सेल में तालाब सूख गए हैं। इसके चलते लोगों को निस्तारी की समस्या हो रही है। वहीं सेल के करंजपारा तालाब का पानी प्रदूषित हाे गया है। फिर भी लोग इस तालाब में मजबूरी में निस्तारी कर रहे हैं। ग्राम साबर का चखला तालाब भी पूरी तरह सूख गया है। लोग निस्तारी के लिए बाेर का सहारा ले रहे हैं। इसी तरह थरहीडीह, मुड़पार, पिकरी, चंडीडीह, मोतीपुर, देवरीकला, सिनाेधा, मुड़ियीडीह आदि ग्रामाें में जलसंकट गहराने से लोगों को निस्तारी की समस्या हो रही है। क्षेत्र के ग्रामीणों ने तालाब में पानी भरने के लिए बालर जलाशय से पानी छाेड़ने की मांग की है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Lawan

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×