• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Mahasamund
  • िकसी नक्सली घटना का शक होने पर पुलिस या कलेक्टर को बताएं
--Advertisement--

िकसी नक्सली घटना का शक होने पर पुलिस या कलेक्टर को बताएं

Mahasamund News - गरियाबंद जिले से लगे ग्राम टुहलू में बुधवार को जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 03:15 AM IST
िकसी नक्सली घटना का शक होने पर पुलिस या कलेक्टर को बताएं
गरियाबंद जिले से लगे ग्राम टुहलू में बुधवार को जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में प्राप्त 73 आवेदनों का निराकरण किया गया। शिविर को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय विधायक चुन्नीलाल साहू ने कहा कि ऐसे जनसमस्या निवारणों का सबसे अच्छा लाभ दूर-दराज गांवों के रहने वाले ग्रामीणों को होता हैं।

उन्हें अपने छोटे-मोटे कामों के लिए भटकना नहीं पड़ता और जिला स्तरीय अधिकारियों की उपस्थिति में उनके कार्यों का तत्परतापूर्वक समाधान हो जाता है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे अपने कर्तव्यों के प्रति निष्ठावान बने और ऐसे शिविरों के माध्यम से अधिक से अधिक नागरिकों को लाभान्वित करें।

डेयरी पालन के लिए किसानों को मिलेगा अनुदान: कलेक्टर हिमशिखर गुप्ता ने कहा कि पशुपालन विभाग द्वारा पशुओं का इलाज और टीकाकरण के साथ-साथ बकरी एवं डेयरी पालन के किसानों को अनुदान दिया जाता हैं। कृषि विभाग द्वारा किसानों को समझाईश देने के साथ-साथ अनुदान पर स्प्रिंकलर, ट्यूबवेल, सिंचाई पंप और ट्रैक्टर आदि दिए जाते हैं। इसी प्रकार अन्य विभागों द्वारा भी योजनाएं संचालित की जाती हैं।

जनसमस्या निवारण शिविरों में सभी विभागों के अधिकारियों द्वारा समस्याओं के निराकरण के साथ-साथ अपने-अपने विभागों की महत्वपूर्ण जानकारी भी दी जाती हैं। उन्होंने ग्रामीणजनों से अपील की कि वे न केवल इन विभागों की योजनाओं की जानकारी लें बल्कि आवेदन कर इसका लाभ भी लें।

जनसहयोग से नक्सली गतिविधियों पर नियंत्रण: पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने कहा कि पूर्व में ओडिशा तथा गरियाबंद जिले से लगे इस क्षेत्र में नक्सली गतिविधियों की बीच- बीच में जानकारी मिलती रहती थी। वर्तमान में यहां सीआरपीएफ का कैंप लगाया गया है और जनसहयोग से नक्सली गतिविधियों पर प्रभावी नियंत्रण किया गया है। उन्होंने सभी ग्रामीणों और नागरिकों से अपील की कि अगर भी क्षेत्र में किसी भी व्यक्ति की कोई गतिविधि संदिग्ध लगे तो उसकी तत्काल सूचना उन्हें या कलेक्टर या विकासखंड के प्रशासनिक एवं पुलिस के अधिकारियों को दें। उनकी जानकारी को गोपनीय रखा जाएगा।

जनसमस्या निवारण शिविर में स्टाल का अवलोकन करते हुए कलेक्टर।

10 महिलाओं की गोद भराई कराई गई

शिविर में जनपद अध्यक्ष शशि तेजन चंद्राकर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज रघुवंशी सहित अन्य जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे। शिविर में 10 हितग्राहियों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन प्रदाय किया गया। 10 महिलाओं की गोद भराई एवं 7 बच्चों का अन्नप्रासन्न का कार्य किया गया। शिविर में सभी विभागों के अधिकारियों द्वारा स्टाल लगाए गए। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने इस स्टालों में पहुंचकर उनके माध्यम से नागरिकों को दी जाने वाली जानकारी तथा संचालित कार्यों की जानकारी ली।

X
िकसी नक्सली घटना का शक होने पर पुलिस या कलेक्टर को बताएं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..