Hindi News »Chhatisgarh »Mahasamund» बलौदा चौकी को हराकर जांजगीर बना विजेता

बलौदा चौकी को हराकर जांजगीर बना विजेता

युवा आजाद समिति रोहिना द्वारा 31वां राज्यस्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में कुल 52 टीमों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 03:45 AM IST

युवा आजाद समिति रोहिना द्वारा 31वां राज्यस्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में कुल 52 टीमों ने हिस्सा लिया। जांजगीर की टीम ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए लगातार तीसरी बार खिताब अपने नाम किया।

जांजगीर ने फाइनल मुकाबले में पुलिस चौकी बलौदा को 32-24 के अंतर से पराजित कर जीत की हैट्रिक बना ली। तीसरे और चौथे स्थान पर तोरेसिंहा व रोहिना की टीम रही। समापन व पुरस्कार वितरण समारोह की मुख्य अतिथि संसदीय सचिव रूपकुमारी चौधरी थी। कार्यक्रम की अध्यक्षता ओमप्रकाश चौधरी ने की। विशिष्ट अतिथि अजजा सेवक संघ बसना अध्यक्ष अमृत लाल जगत, सर्व आदिवासी समाज सराईपाली अध्यक्ष पुष्पक राठिया, ग्रामीण कृषि सेवा सहकारी समिति लंबर अध्यक्ष जयराम पटेल, रेलवे पुलिस हेमकुमार गड़तिया, शाला प्रबंधक नरेंद्र कानूनगो, स्काउट गाइड संघ के अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता मौजूद थे।

कबड्डी ग्रामीण परंपरा का खेल

चौधरी ने कहा कि कबड्डी ग्रामीण परंपरा का खेल है। रोहिना की कबड्डी प्रतियोगिता से प्रेरणा लेकर दूसरे गांवों में भी यह स्पर्धा हो रही है। समिति के अध्यक्ष क्षमानिधि ने स्वागत भाषण दिया और संरक्षक केशव सेठ ने समिति के गठन व इतिहास की जानकारी दी। सचिव कमलेश साहू ने प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए बताया कि इस बार महासमुंद, रायगढ़, बलौदाबाजार, जांजगीर चांपा, ओडिशा की 52 टीमों ने हिस्सा लिया। विजेता को 20 हजार, उपविजेता को 15 हजार रुपए, तीसरे और चौथे स्थान पर रही टीमों को 10 व 5 हजार रुपए नगद के साथ चैलेंज शील्ड प्रदान किया गया। बेस्ट आलराउंडर प्रशांत सागर (जांजगीर), बेस्ट रेडर खेमराज पटेल (बलौदा) और बेस्ट कैचर छबिलाल को चुना गया। प्रतियोगिता को सफल बनाने में समिति के सहसचिव बेदराम चौहान, उपाध्यक्ष नेपाल साहू सहित अन्य सदस्यों का सहयोग रहा।

कबड्डी

रोहिना में आयोजित राज्यस्तरीय कबड्डी में 52 टीमों ने लिया हिस्सा

सराईपाली. स्पर्धा का फाइनल मैच जांजगीर और बलौदा पुलिस चौकी की टीम के बीच हुआ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mahasamund

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×