--Advertisement--

संजीवनी-महतारी के कर्मचारियों ने फिर बुलंद की आवाज

छह सूत्रीय मांगों को लेकर संजीवनी व महतारी एक्सप्रेस के कर्मचारियों ने शुक्रवार को धरना प्रदर्शन कर अपनी मांगों...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 03:00 AM IST
छह सूत्रीय मांगों को लेकर संजीवनी व महतारी एक्सप्रेस के कर्मचारियों ने शुक्रवार को धरना प्रदर्शन कर अपनी मांगों की ओर शासन प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराया। कर्मचारियों ने कहा है कि उनकी मांगों की ओर ध्यान नहीं देने पर काम ठप कर 16 जुलाई से अनिश्चितकालीन आंदोलन किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ संजीवनी 108-102 कर्मचारी संघ ने ठेका प्रथा मुक्त कर कर्मचारियों काे शासन के अधीनस्थ कार्य कराने, अप्रैल 2017 से वृद्धि की गई न्यूनतम मजदूरी लागू कर एरियर्स सहित भुगतान करने, श्रम अधिनियम के अनुसार कार्यावधि 8 घंटे निर्धािरत कर अतिरिक्त कार्य का अतिरिक्त भत्ता देने, कर्मचारियों की समस्याओं का उचित निराकरण के लिए शासन स्तर पर विशेष कमेटी गठित करने, वेतनमान निश्चित समय पर देने व परिवर्तनशील महंगाई भत्ता श्रम अधिनियम के अनुसार समय पर वृद्धि करने की मांग को लेकर शुक्रवार को पटवारी कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन किया। इसके पूर्व मांगों को लेकर 11 जुलाई से काली पट्टी लगाकर मांगाें की ओर शासन-प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराया। उपस्थित कर्मचारियों ने कहा कि वे अपनी जायज मांगों को लेकर कई बार शासन-प्रशासन का ध्यान आकर्षित करा चुके हैं। बावजूद इसके अभी तक इस दिशा में कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिससे कर्मचारियों को मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। धरना प्रदर्शन के दौरान प्रमुख रूप से भूपेंद्र नायक, उपाध्यक्ष कमलेश चंद्राकर, गोपी साहू, तुकेश्वर साहू, महेंद्र ओगरे, डिग्रीलाल, विक्रम सोनी, विकास साहू, रूपेश पटेल आदि कर्मचारी मौजूद थे।

संजीवनी व महतारी के कर्मचारियों ने कचहरी चौक के पास प्रदर्शन किया।

चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों ने भी दी आंदोलन की चेतावनी

चार सूत्रीय मांगाें को लेकर छग लघुवेतन शासकीय चतुर्थ वर्ग कर्मचारी संघ भी 16 जुलाई से अनिश्चितकालीन आंदोलन करने जा रहे हैं। संघ के जिला सचिव एनके देवदास ने बताया कि ट्राइबल विभाग सहित अन्य विभागों के दैवेभो कर्मचारियों को नियमित करने, कार्यभारित कर्मचारियों को सेवानिवृत्त पश्चात नियमित कर्मचारियों की भांति 240 दिनों का अवकाश नगदीकरण का लाभ देने, ग्रेड वेतन में 1300-1800 व 1900 बढ़ोत्तरी करने व सेवानिवृत्ति अवधि बढाने की मांग को लेकर पटवारी कार्यालय के सामने 16 जुलाई को धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

मांगें पूरी नहीं होने पर 16 से अनिश्चितकालीन आंदोलन

संघ के जिलाध्यक्ष भूपेंद्र कुमार नायक ने बताया कि मांगोें को लेकर पूर्व में शासन-प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराया गया था लेकिन इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिस पर संघ को क्रमिक आंदोलन करने का निर्णय लेना पड़ा है। पहले चरण में 11 जुलाई से 12 जुलाई तक काली पट्टी लगाकर विरोध प्रदर्शन किया गया। इसके बाद शुक्रवार को जिला स्तर पर धरना प्रदर्शन कर विरोध जताया गया। उन्होंने कहा कि उनकी मांगों की ओर ध्यान नहीं दिए जाने की स्थिति में आपातकालीन सेवा ठप कर 16 जुलाई से प्रांतव्यापी आव्हान पर अनिश्चितकालीन आंदोलन किया जाएगा।