--Advertisement--

सात दिन में बीईओ को नहीं हटाने पर आंदोलन

भास्कर संवाददाता|मनेंद्रगढ़ शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा की बैठक शनिवार को हुई। जिसमें विकासखंड...

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 02:55 AM IST
सात दिन में बीईओ को नहीं हटाने पर आंदोलन
भास्कर संवाददाता|मनेंद्रगढ़

शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा की बैठक शनिवार को हुई। जिसमें विकासखंड शिक्षाधिकारी और उनके कार्यालय में चल रहे भ्रष्टाचार, अनावश्यक लेटलतीफी, बहस, छोटे-छोटे कार्यों के लिए पैसों की मांग तथा अमर्यादित व्यवहार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया गया। साथ ही शासन-प्रशासन से विकासखंड शिक्षाधिकारी को तत्काल हटाने की मांग की गई। शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा के ब्लाॅक संचालक अभय तिवारी एवं पवन दुबे ने बताया कि मोर्चा पदाधिकारियों के विरुद्ध अधिकारी षडयंत्र कर कार्रवाई करने की चर्चा की जा रही है, जो गलत है। उन्होंने कहा कि अपने गलत कार्यों को सुधार न करते हुए सही को भी गलत सिद्ध करने का प्रयास किया जा रहा है। ब्लाॅक संचालकों ने कहा कि जबसे उक्त अधिकारी मनेंद्रगढ़ में आए हैं, पूरा विकासखंड शिक्षा कार्यालय भ्रष्टाचार और घूसखोरी का अड्डा बन गया है। शिक्षा कार्यालय में इस प्रकार का अवैध कार्य शिक्षकों के साथ शासन-प्रशासन की छवि को धूमिल कर रहा है। मोर्चा की बैठक में तय किया गया कि यदि सात दिन के भीतर इस पर ठोस कार्रवाई नहीं की गई तो उग्र प्रदर्शन किया जाएगा।

बैठक में मौजूद रहे शिक्षक।

सीएम से शिकायत के बाद भी बीईओ पर नहीं हुई कार्रवाई

गौरतलब है कि 1 मई मजदूर दिवस के अवसर पर मनेंद्रगढ़ प्रवास पर आए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को विकासखंड के सभी शिक्षक, शिक्षक पंचायत संवर्ग ने शिक्षा विभाग की विभिन्न स्थानीय समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा था। ज्ञापन में कहा गया था कि विकासखंड शिक्षाधिकारी एके नाग शिक्षक, शिक्षा पंचायत संवर्ग से अवैध रूप से किसी भी कार्य के लिए वसूली कर रहे हैं। उनकी अन्य शिकायतें करते हुए स्थानांतरण की मांग की गई थी, लेकिन अब तक ऐसा नहीं हुआ। वहीं हाल ही में दो नवनियुक्त महिला शिक्षक लक्ष्मी वर्मा और प्रिया ठाकुर को बीईओ कार्यालय में ज्वाइनिंग के लिए दिन भर बेवजह परेशान किए जाने का मामला सामने आ चुका है।

X
सात दिन में बीईओ को नहीं हटाने पर आंदोलन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..