Hindi News »Chhatisgarh »Nayapararajim» नाराज पार्षदों ने नगरपालिका में तालाबंदी की चेतावनी दी

नाराज पार्षदों ने नगरपालिका में तालाबंदी की चेतावनी दी

नवापारा राजिम| स्थानीय नगर पालिका परिषद में सक्षम अधिकारी के नदारद रहने से नाराज पार्षदों ने पालिका भवन में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 12, 2018, 02:55 AM IST

नाराज पार्षदों ने नगरपालिका में तालाबंदी की चेतावनी दी
नवापारा राजिम| स्थानीय नगर पालिका परिषद में सक्षम अधिकारी के नदारद रहने से नाराज पार्षदों ने पालिका भवन में तालाबंदी की चेतावनी दी है। विदित हो कि एक मई से पालिका में कोई सक्षम अधिकारी के नहीं होने से नगर के लोगों से जुड़े कामकाज ठप पड़े हैं और आवश्यक सेवाएं भी चरमरा गई हैं। इसके चलते लोगों को पालिका संबंधित कार्य करने में असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। लोग सीधे पार्षदों के सामने नाराजगी जाहिर कर रहे हैं।

शुक्रवार को करीब दर्जनभर पार्षदों ने विज्ञप्ति द्वारा सचिव नगरीय प्रशासन को संबोधित कर वस्तु स्थिति से अवगत कराया। पार्षदों ने चेतावनी दी कि 14 मई को यदि कार्यरत मुख्य नगर पालिका अधिकारी या सक्षम अधिकारी उपस्थित नहीं रहे तो पालिका भवन में तालाबंदी कर दी जाएगी। इस दौरान पालिका उपाध्यक्ष दयालू गाड़ा, अनिता दुबे, प्रसन्ना शर्मा, बाॅबी चावला, ओम कुमारी साहू, दुकालू चक्रधारी, छन्नू साहू, रमेश साहू, उत्तरा गिलहर, रूपेंद्र चंद्राकर सहित पार्षद उपस्थित थे।

हाईकोर्ट के आदेश का उल्लंघन

उच्च न्यायालय बिलासपुर के स्थगन आदेश के बाद भी मुख्य नगर पालिका अधिकारी विकास पाटले पदस्थ हैं। वे 1 मई से चिकित्सा अवकाश पर हैं। उन्होंने अपना प्रभार मुख्य लिपिक देवचरण साहू को सौंपा था, लेकिन उनका चिकित्सा अवकाश आवेदन संयुक्त संचालक क्षेत्रिय कार्यालय द्वारा निरस्त कर दिया गया था। अवकाश पर गए मुख्य नपा अधिकारी पाटले चूंकि न्यायालयीन स्थगन आदेश पर कार्यरत हैं, इसलिए कोई भी विभागीय कार्यवाही आदेश इन पर लागू नहीं किया जा रही है।

चिलचिलाती धूप व बरसते पानी में डटे शिक्षाकर्मी, संविलियन करने की मांग

भास्कर न्यूज|नवापारा राजिम

राजधानी रायपुर के बूढ़ा तालाब स्थित धरनास्थल पर चिलचिलाती धूप व बरसते पानी में शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय द्वारा महापंचायत संविलियन की एक सूत्रीय मांग को लेकर प्रदेशभर के करीब 60 हजार से अधिक शिक्षाकर्मियों हड़ताल शुरू की। संविलियन ही उनकी एकमात्र मांग है। वे अपने मांगों के लिए किसी भी हद तक संघर्ष करने को तैयार हैं। संविलियन में हो रही देरी तथा सरकार के असमंजस को लेकर महापंचायत ने सरकार के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया।

शिक्षाकर्मियों ने महापंचायत में सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि वे मांगों पर सरकार की विफलता को समुदाय तक पहुंचाएंगे। इसके लिए वे सेल्फी विथ फेमिली कम्युनिटी तथा सेल्फी विथ स्टूडेंट का अभियान चलाने के साथ ही संविलियन गाड़ी बनाकर संघर्ष को विस्तार देंगे। महापंचायत में यह निर्णय लिया गया कि 26 मई को राज्य के समस्त 90 विधानसभाओं में संकल्प दिवस का आयोजन किया जाएगा। जिसमें सफल लोकतंत्र के लिए मतदाता जागरूकता के साथ ही सरकार के कान खड़े करने वाले संकल्प भी लिए जाएंगे। महापंचायत में राज्य के समस्त जिले व ब्लॉक के पदाधिकारियों, प्रांतीय संचालक सदस्यों संजय शर्मा, वीरेंद्र दुबे, केदार जैन, विकास राजपूत, चंद्रदेव राय, धर्मेश शर्मा, हरेन्द्र सिंह, ओमप्रकाश बघेल, चंद्रशेखर तिवारी, ताराचंद जायसवाल, सुधीर प्रधान, गिरीश साहू, चेतन बघेल, मुन्नालाल मनहरे, ओमप्रकाश सोनकला, कन्हैया कंसारी, अतुल शर्मा, विनोद साहनी, विजय गिलहरे, अशोक साहू, टिकेश्वरी साहू, अंजुम शेख सहित बड़ी संख्या में शिक्षाकर्मी शामिल थे।

नवापारा राजिम. रायपुर के बूढ़ातालाब में आयोजित महापंचायत में मौजूद शिक्षाकर्मी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nayapararajim

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×