--Advertisement--

लक्ष्य तय कर पढ़ें और विषय विशेषज्ञ बनकर बनाएं पहचान

भास्कर न्यूज | नवापारा-राजिम सरस्वती शिशु मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नवापारा में प्रतिभा सम्मान...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 03:00 AM IST
भास्कर न्यूज | नवापारा-राजिम

सरस्वती शिशु मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नवापारा में प्रतिभा सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया। पढ़ाई के साथ ही मार्गदर्शन देने के लिए श्रीराम जानकी शिक्षण समिति के व्यवस्थापक प्रफुल्ल दुबे, पूर्व छात्र राज कुमार साहू एप मोबाइल कंपनी के सीईओ, मार्गदर्शक श्रीकांत साहू मौजूद थे। पूर्व छात्र का प्राचार्य नरेश यादव, वरिष्ठ आचार्य कृष्ण कुमार वर्मा तथा व्यवस्थापक ने प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मान किया। इस अवसर पर छात्र ने कहा कि आप सभी भाग्यशाली है कि आप सभी सरस्वती शिशु मंदिर में पढ़ाई कर रहे हैं, आपको भविष्य में प्रार्थनाओं की आवश्यकता पड़ेगी, जो यहां सिखाई जाती है, वह संस्कार हर जगह काम आता है, आगे बढ़ने के लिए रूचि जरूरी है। जो भी काम करें मन लगाकर करें, उसे पूरा समय दे, किसी एक विषय में योग्य बने और उस क्षेत्र में अपनी पहचान बनाए, कुछ लक्ष्य तय करें और आगे बढ़े।

शिक्षण समिति के व्यवस्थापक ने कहा कि शिशु मंदिर में अध्ययनरत पूर्व छात्रा नेहा डागा का आज फैशन डिजाइनर के क्षेत्र में लंदन के लिए चयन हुआ है। ये सभी आपके लिए आदर्श हैं। आप भी अच्छे से पढ़ाई कर विद्यालय व माता-पिता का नाम रोशन करें। मार्गदर्शक साहू ने कहा कि सभी छात्र स्वामी विवेकानंद को अपना आदर्श बनाए। पूरे उत्साह व जोश के साथ निडर होकर देश व समाज के हित में कार्य करें। प्रार्थना में बहुत असर होता है, इससे आप जो चाहेंगे वो आपको मिलेगा।

इस मौके पर आचार्य दीपक देवांगन, रेणु कुमार निर्मलकर, योगेश साहू, अनिता जाधव, कपूरचंद कहार, स्मृति जैन, संजय सोनी, रेखा जैन, आरती शर्मा, नरेन्द्र साहू, हरिशंकर साहू, तामेश्वर साहू, चंचल मिश्रा, निशा जैन, शेखर सुमन देवांगन, रूपेन्द्रदास मानिकपुरी आदि आचार्य उपस्थित रहे। संचालन सरोज कंसारी और आभार प्रदर्शन प्राचार्य ने किया। जानकारी प्रचार-प्रसार विभाग से योगेश साहू ने दी है।

नवापारा राजिम. पूर्व छात्र को स्मृति चिह्न देते प्राचार्य व शाला प्रबंधन समिति के सदस्य।

पूर्व छात्र ने बांटा अनुभव, कहा-स्कूल के संस्कार से मिली मंजिल

अनुभव बांटते हुए छात्र ने कहा कि मैंने 12वीं की पढ़ाई इसी विद्यालय में गणित से की। राजिम के पास छोटे से गांव बेलटुकरी का निवासी हूं, आज मेरी कंपनी की रायपुर सहित बैंगलुरु व गुजरात में भी शाखाएं हैं। मोबाइल साफ्टवेयर बनाने की लगन ने मुझे आज इस मंजिल तक पहुंचाया और मैं अब जीडी प्रोटोन टेक्‍नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का मालिक हूं। अपने गुरुजनों एवं पिता जागेशराम साहू के आशीर्वाद एवं विद्यालय के संस्कार के कारण ही मैं इस मुकाम तक पहुंचा हूं। सभी छात्र-छात्राओं को उन्होंने लगन के साथ पढ़ाई करने के लिए प्रेरित किया।