Hindi News »Chhatisgarh »Nayapararajim» राजिम भक्तिन मंदिर में कृष्ण जन्म प्रसंग सुनने जुटे श्रद्धालु

राजिम भक्तिन मंदिर में कृष्ण जन्म प्रसंग सुनने जुटे श्रद्धालु

भास्कर न्यूज | कौंदकेरा नवापारा स्थानीय राजिम भक्तिन मंदिर प्रांगण में चल रहे श्रीमद भागवत महापुराण के छठवें...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 13, 2018, 03:00 AM IST

भास्कर न्यूज | कौंदकेरा नवापारा

स्थानीय राजिम भक्तिन मंदिर प्रांगण में चल रहे श्रीमद भागवत महापुराण के छठवें दिन गुरुवार को बड़ी संख्या में उपस्थित महिला समूह के बीच कृष्ण जन्म प्रसंग का वर्णन किया गया। व्यासपीठ से पं. हरिओमशरण तिवारी ने भगवान श्रीकृष्ण अवतरण के बखान सुनाकर कथा की जीवंत झांकी से भावविभोर कर दिया। कंस द्वारा अपनी सगी बहन देवकी व वासुदेव के सात पुत्रों के वध के बाद आठवीं संतान के रूप में श्रीकृष्ण के जन्म और उन्हें रात के अंधेरे में वृंदावन छोड़ने का प्रसंग सुनाया।

अगले चरण में महाराज ने गजगृह की लड़ाई का वर्णन प्रस्तुत किया। जिसमें हाथी का अर्थ सच्चाई और श्रापित मगर का वर्णन किया गया। हाथी का पैर पकड़ने का कारण को बताते हुए श्रापित मगर के मोक्ष प्राप्ति का वर्णन किया। तिवारी ने आज मनुष्य जाति को अहंकार से ग्रस्त और उतावले हो गलत निर्णय लेने का दोषी बताया। कथा के अंत में श्रद्धालुओं के लिए प्रसादी वितरण की व्यवस्था की गई थी।

कौंदकेरा नवापारा. कृष्ण जन्म प्रसंग पर भावविभोर हुए श्रध्दालु।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nayapararajim

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×