Hindi News »Chhatisgarh »Nayapararajim» सावन कल से, धर्मनगरी में लगेगा शिवभक्त और कांवरियों का मेला

सावन कल से, धर्मनगरी में लगेगा शिवभक्त और कांवरियों का मेला

देवों के देव महादेव का श्रावण मास इस वर्ष 28 जुलाई शनिवार से प्रारंभ हो रहा है। पहला सावन सोमवार 30 जुलाई को पड़ेगा।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 27, 2018, 03:10 AM IST

सावन कल से, धर्मनगरी में लगेगा शिवभक्त और कांवरियों का मेला
देवों के देव महादेव का श्रावण मास इस वर्ष 28 जुलाई शनिवार से प्रारंभ हो रहा है। पहला सावन सोमवार 30 जुलाई को पड़ेगा। पूरे महीने में चार सावन सोमवार पड़ेंगे। श्रवण मास के सोमवार को लाखों शिव भक्त व्रत रखकर भगवान भोलेनाथ की पूजा करते हैं। इस दौरान श्रद्धालु कांवर यात्रा में जल लेकर टोलियों में जाते दिखेंगे। शिव मंदिरों में पूजन करने भक्तों की भीड़ लगेगी।

श्रावण मास आने के पहले भक्तों से लेकर मंदिर के पुजारियों द्वारा तैयारी की जा रही है। धर्मनगरी राजिम में श्रावण मास के प्रत्येक सोमवार को कांवर यात्रियों सहित शिव भक्तों का मेला लगेगा। शिव भक्तों द्वारा कांवर यात्रियों के लिए भंडारे की व्यवस्था भी रखी जाती है। पिछले साल सावन मास धूप और गर्मी में गुजरा था, जिससे कांवर यात्रियों का खासी परेशानी हुई थी। लेकिन इस वर्ष बदली बारिश और मानसून की ठंडी हवाओं से मौसम खुशनुमा बना हुआ है।

राजिम. संगम नदी के मध्य कुलेश्वर महादेव मंदिर, जहां श्रद्धालु भोलेनाथ की पूजा के जुटेंगे।

इन मंदिरों में रहती है भक्तों की भीड़

श्रावण मास में नगर के छठी शताब्दी के प्राचीन मंदिर संगम नदी के बीच स्थित श्री कुलेश्वर महादेव, सोण तीर्थ घाट में स्थित सोमेश्वर नाथ बाबा , गरीब नाथ, मामा भांचा, भूतेश्वर नाथ के अलावा कोपेश्वर नाथ, चंपेश्वर महादेव, पटेश्वर नाथ, फणेश्वर महादेव सहित ग्रामीण इलाकों के महादेव मंदिरों में भी भक्तों का दर्शन पूजन करने भीड़ लगी रहेगी। महादेव के प्रिय माने जाने वाले कनेर फूल, बेल पत्ती आदि की मांग और खपत बढ़ जाती है।

दुकानों में भी बढ़ी रौनक

दूसरी ओर व्यापारियों ने भी कांवर यात्रियों के लिए आवश्यक सामान, कांवर, भगवा पेंट, शर्ट, तांबे का कलश आदि स्टाक कर लिए हैं। श्रावण मास में चारों ओर धार्मिक वातावरण हो जाता है और रात्रि में कई स्थानों पर रामायण मंडलियों द्वारा रामचरितमानस जैसे कार्यक्रम होंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nayapararajim

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×