Hindi News »Chhatisgarh »Nayapararajim» मिशन क्लीन :3 साल में चौथी बार पालिका को पुरस्कार

मिशन क्लीन :3 साल में चौथी बार पालिका को पुरस्कार

भास्कर न्यूज | नवापारा राजिम स्वच्छ भारत मिशन के घटक मिशन क्लीन सिटी योजना के क्रियान्वयन के लिए नगर पालिका...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 05, 2018, 03:15 AM IST

मिशन क्लीन :3 साल में चौथी बार पालिका को पुरस्कार
भास्कर न्यूज | नवापारा राजिम

स्वच्छ भारत मिशन के घटक मिशन क्लीन सिटी योजना के क्रियान्वयन के लिए नगर पालिका परिषद गोबरा नवापारा ने सराहनीय कार्य किया। इस कार्य को अन्य निकायों के लिए प्रेरणादायक एवं अनुकरणीय मानते हुए राज्य शासन ने नगर पालिका अध्यक्ष विजय गोयल को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। तीन साल में राज्य शासन से चौथी बार नगर पालिका को सम्मान मिला है।

नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल एवं विभाग के सचिव रोहित यादव ने संयुक्त रूप से नगर पालिका के कार्यों की सराहना करते हुए पालिकाध्यक्ष को सम्मानित किया। परिषद ने प्रदेश की अन्य निकायों की तुलना में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर यह गौरव हासिल किया है। पूर्व में भी पालिका को 2 अक्टूबर 2016 में शौचालय योजना के तहत निर्धारित समय पर लक्ष्य प्राप्ति के लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमनसिंह, नगरीय निकाय मंत्री एवं कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित कर चुके हैं। इसके बाद गत वर्ष राजस्व वसूली के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए मुख्यमंत्री व नगरीय निकाय मंत्री के हाथों प्रशस्ति पत्र एवं 25 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि पालिका को मिली थी।

इसके बाद तीसरी बार नगर पालिका को नवापारा क्षेत्र में खुले में शौचमुक्त करने के लिए मंत्री के हाथों सम्मान मिला था। अब तीन वर्षों में चौथी बार मिशन क्लीन सिटी के तहत यह सम्मान पालिका को मिला है। राज्य शासन द्वारा दिए गए सम्मान के लिए पालिकाध्यक्ष, उपाध्यक्ष, नगरपालिका अधिकारी विकास पाटले, सहायक अभियंता सिन्हा, सभापति प्रसन्न शर्मा, दुकालू चक्रधारी, मयाराम साहू, भूपेन्द्र सोनी, ओमकुमारी साहू, रूपेंद्र चंद्राकर, साधना सौरज, संजय बंगानी, जनक कंसारी, रमेश वैष्णव, रेखा बंजारी, सौरभ जैन, छन्नू साहू सहित कर्मचारियों ने आभार व्यक्त किया है।

पालिका परिषद गोबरा नवापारा के काम की सराहना, सीएम व मंत्री ने पालिकाध्यक्ष को सम्मानित किया

नवापारा राजिम. मंत्री से प्रशस्ति पत्र लेते पालिकाध्यक्ष।

सीमित संसाधनों व कर्मचारियों की मेहनत का नतीजा



सम्मान मिलने के बाद पालिकाध्यक्ष ने बताया कि यह पुरस्कार सीएमओ, स्वच्छता निरीक्षक, सफाई कर्मचारियों की कठिन मेहनत का परिणाम है, मैं यह नहीं कहता कि हमारा नगर पूर्ण रूप से स्वच्छ हो गया है, लेकिन कम कर्मचारी एवं सीमित संसाधनों के बावजूद हमें यह पुरस्कार मिला है, हमारे लिए यह गौरव की बात है। मैं नगर के नागरिकों को इस सम्मान के लिए बधाई देता हूं।

नगरवासियों से मांगा सहयोग

पालिका उपाध्यक्ष दयालू गांड़ा ने कहा कि नगर को साफ व स्वच्छ रखने के लिए नगरवासियों का सहयोग अपेक्षित है। नगर की जनता बढ़-चढ़कर स्वच्छता के लिए जागरूक नहीं होगी, तब तक किसी भी नगर का स्वच्छ होना संभव नहीं है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nayapararajim

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×