• Home
  • Chhattisgarh News
  • Nayapararajim
  • हड़ताल के चलते नहीं पहुंच पाई एंबुलेंस, बेहोश किसान की मौत
--Advertisement--

हड़ताल के चलते नहीं पहुंच पाई एंबुलेंस, बेहोश किसान की मौत

राजिम| 108 और 102 के चालकों की हड़ताल का खामियाजा बेगुनाह गरीब लोगों को भुगतना पड़ रहा है। यहां से 10 किमी दूर ग्राम...

Danik Bhaskar | Aug 05, 2018, 03:16 AM IST
राजिम| 108 और 102 के चालकों की हड़ताल का खामियाजा बेगुनाह गरीब लोगों को भुगतना पड़ रहा है। यहां से 10 किमी दूर ग्राम भैंसातरा में 34 साल का गरीब किसान उमेंद्र ध्रुव की शनिवार को मौत हो गई। सरपंच इदरमन साहू ने बताया कि सुबह उमेंद्र मेरे घर में बहुत देर तक बैठा था और हम लोग बातचीत हंसी मजाक किए। उसके बाद खेत में काम करने चला गया। इसी दौरान सुबह 9 बजे खेत में अचानक उमेंद्र बेहोश होकर गिर गया। पास ही खेत में काम कर रहे रोशन एवं अरविंद ने देखा और फौरन 108 को फोन किया। वहां से बताया गया कि गाड़ी तो है, लेकिन चालक नहीं है, गाड़ी नहीं आ सकती है। प्राइवेट गाड़ी से अस्पताल लेकर जा रहे थे कि 2 किमी पहले ग्राम कोमा के पास उसकी मौत हो गई। सरपंच का कहना है कि यदि 108 गाड़ी होती तो शायद जान बच सकती थी।

सांप काटने से मौत

मैनपुर| ब्लॉक मुख्यालय से 35 किमी दूर ग्राम भूतबेड़ा में सर्प दंश से एक चरवाहे की मौत हो गई है। पवित्रा यादव पिता सुकडुराम यादव (45) रोज की तरह जंगल में मवेशी चराने गया था, जहां जहरीले सर्प ने पैर में डस लिया। चरवाहा बदहवाश हालत में घर पहुंचकर सर्प दंश की बात परिजनों को बताई। परिजन निजी गाड़ी से उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां इलाज शुरू होने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया।