नयापराराजिम

--Advertisement--

कम पढ़े लिखे युवा भी स्वरोजगार से आगे बढ़ सकते हैं: हरिशंकर

राजिम| सीखने की इच्छा रखने वालों के लिए पग-पग पर शिक्षक है। व्यक्ति जन्म से लेकर मृत्यु तक लगातार सीखता ही रहता है।...

Dainik Bhaskar

Aug 07, 2018, 03:16 AM IST
कम पढ़े लिखे युवा भी स्वरोजगार से आगे बढ़ सकते हैं: हरिशंकर
राजिम| सीखने की इच्छा रखने वालों के लिए पग-पग पर शिक्षक है। व्यक्ति जन्म से लेकर मृत्यु तक लगातार सीखता ही रहता है। सीखने के लिए कोई उम्र नहीं होती। कोई समय नहीं होता, न ही कोई विशेष अवसर होता है। यह बातें कमल क्षेत्र संगम कला परिषद राजिम द्वारा गायत्री मंदिर में आयोजित कौशल विकास प्रशिक्षण प्रमाणपत्र वितरण समारोह में मुख्य अतिथि गायत्री मंदिर के वरिष्ठ सदस्य हरिशंकर सिन्हा ने कही। उन्होंने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि छग शासन ने कौशल विकास को आगे लाकर लोगों को रोजगार मुहैया कराने की योजना लागू की है। इससे कम पढ़े लिखे युवा भी स्वरोजगार से आगे बढ़ सकते हैं।

सिन्हा ने कहा बेटियों के लिए सिलाई प्रशिक्षण आय प्राप्त करने का अच्छा माध्यम है। अध्यक्षता करते हुए अमृतलाल साहू ने कहा कि मुस्कुराना ही जिंदगी है। यदि किसी के पास हम जाते हैं तो बात रखने की भी कला होनी चाहिए। पूरी दुनिया कला से ही आगे बढ़ रही है। इस अवसर पर कुलेश्वरी सोनकर, मोनिका पटेल, सविता सोनकर, अनुराधा साहू, ईश्वरी साहू, शशीकला साहू, मोतीम लहरे, मधु देवांगन, योगिता साहू, भारतीय सोनकर, खिलेश्वरी साहू, रेणुका यादव, रामकुमार देवांगन आदि छात्र-छात्राओं को प्रमाणपत्र वितरित किया गया। कार्यक्रम का संचालन कवि एवं साहित्यकार संतोष कुमार सोनकर मंडल एवं आभार व्यक्त कमल क्षेत्र संगम कला परिषद के अध्यक्ष तुला राम साहू ने किया। इस मौके पर बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं के अलावा लोग भी उपस्थित थे।

X
कम पढ़े लिखे युवा भी स्वरोजगार से आगे बढ़ सकते हैं: हरिशंकर
Click to listen..