Hindi News »Chhatisgarh »Nayapararajim» सिरकट्टी आश्रम में गुरु का आशीर्वाद लेकर दक्षिणा दी

सिरकट्टी आश्रम में गुरु का आशीर्वाद लेकर दक्षिणा दी

कोपरा नवापारा| गुरु पूर्णिमा पर सिरकट्टी आश्रम में ब्रम्हलीन सियभुनेश्वरी शरण व्यास व उनके कृपा पात्र शिष्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 28, 2018, 03:20 AM IST

  • सिरकट्टी आश्रम में गुरु का आशीर्वाद लेकर दक्षिणा दी
    +1और स्लाइड देखें
    कोपरा नवापारा| गुरु पूर्णिमा पर सिरकट्टी आश्रम में ब्रम्हलीन सियभुनेश्वरी शरण व्यास व उनके कृपा पात्र शिष्य गोवर्धन शरण व्यास का आशीर्वाद लेने उनके भक्तों भीड़ सुबह से शाम और रात तक पहुंचे और गुरु का आशीर्वाद लेकर गुरु दक्षिणा दी। शुक्रवार को पूर्णिमा पर चंद्रग्रहण का सूतक दोपहर 2.54 बजे लगने के बाद यहां के मंदिर के पट बंद कर दिए गए। इसके कारण दोपहर बाद भक्त गुरु का आशीर्वाद लेकर ही वापस होते रहे। वही पाण्डुका पुलिस द्वारा सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए थे। आश्रम पहुंचने वाली गाड़ियों को कुटेना तथा नदी उस पार अमलीडीह में रोका जा रहा था। इसके कारण अनेक यात्री जो पाण्डुका से होकर मगरलोड जा रहे थे, उन्हें सड़क पार करने में घंटों इंतजार करना पड़ा।

    लचकेरा में कथा और प्रवचन के बाद श्रद्धालुओं ने गुरु का आशीर्वाद लिया

    फिंगेश्वर| ब्लॉक के अंतिम छोर वनांचल ग्राम लचकेरा में ग्रामवासियों के सौजन्य से पहली बार गुरु पूर्णिमा महोत्सव हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर अंचल के मानस गान टोली को आमंत्रित किया गया था। संगीतमय कथा प्रवचन के बीच हुए सुबह 8 से 9 बजे तक दीप प्रज्ज्वलित कर संगीतमय आरती के साथ आयोजन का शुभारंभ किया गया। 9:30 से 10 बजे तक संगीतमय मानस गान प्रतियोगिता के बाद 1 से 2 बजे तक भव्य भंडरा में प्रसादी वितरण किया। 3 से 5 बजे राजहंस भारद्वाज के प्रवचन व उद्बोधन पश्चात गुरु सम्मान समारोह का आयोजन स्कूल प्रांगण में किया गया, जहां गुरु का आशीर्वाद लेने देर रात तक ग्रामीणों की भीड़ लगी रही।

    ग्राम लचकेरा में गुरु के प्रति आस्था प्रगट करता हुआ श्रद्धालु।

  • सिरकट्टी आश्रम में गुरु का आशीर्वाद लेकर दक्षिणा दी
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nayapararajim

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×