• Home
  • Chhattisgarh News
  • Nayapararajim
  • उपवास साधना पूरी होने पर जैन तपस्वियों का सम्मान किया गया
--Advertisement--

उपवास साधना पूरी होने पर जैन तपस्वियों का सम्मान किया गया

तपस्या का पर्व चातुर्मास के दौरान शुक्रवार को नगर के तप साधकों का सम्मान किया गया। गुरुभगवंतों की प्रेरणा से...

Danik Bhaskar | Aug 04, 2018, 03:26 AM IST
तपस्या का पर्व चातुर्मास के दौरान शुक्रवार को नगर के तप साधकों का सम्मान किया गया। गुरुभगवंतों की प्रेरणा से कर्मनिर्जय के लिए तपस्या का क्रम जारी है। किरण अजय कोचर, स्वाति मोनित बंगानी, आभा अजय बंगानी सहित विजय लक्ष्मी बरड़िया के नौ उपवास, चंद्रकला बंगानी के आठ एवं कविता बंगानी के चार उपवास की साधना पूरी होने पर श्री संघ ने सम्मान किया। इसी तरह नीतू बैद के आठ उपवास की तपस्या पूरी होने पर उनका भी बहुमान किया गया।

पावन अवसर पर चल रहे जैन श्वेतांबर मंदिर प्रागंण में शुक्रवार को चातुर्मासिक प्रवचन की कड़ी में पूज्य ऋषभनगर जी ने कहा कि परिवार में एक-दूसरे के प्रति समर्पित भाव से ही पारिवारिक आनंद लिया जा सकता है। छोटे-बड़ों का आदर करें, सब के प्रति सम्मान की भावना रखें। इसके अभाव में अमीर व्यक्ति ही क्यों न हो, जीवन का आनंद नहीं ले सकता। पुण्य एवं सद्कर्मों से धन तो कमाया जा सकता पर आनंद नहीं। परिवार में सभी सदस्य अपने-अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हैं, तभी सद्भावना का वातावरण और आदर्श परिवार बनता है।

नवापारा राजिम. तपस्वियों का श्री संघ ने सम्मान किया।