Hindi News »Chhatisgarh »Nayapararajim» जंगली सुअरों का आतंक, फसलों को रौंदा

जंगली सुअरों का आतंक, फसलों को रौंदा

कौंदकेरा नवापारा| कौंदकेरा में रबी फसल धान में आ रही बालियां और विकसित हो रहे पौधों को जंगली सुअर के आतंक से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 27, 2018, 04:15 AM IST

जंगली सुअरों का आतंक, फसलों को रौंदा
कौंदकेरा नवापारा| कौंदकेरा में रबी फसल धान में आ रही बालियां और विकसित हो रहे पौधों को जंगली सुअर के आतंक से किसानों के लिए बचाना मुश्किल हो रहा है। अंचल में 5 हजार एकड़ के रकबे में निकल रही धान की बालियों को ये सुअर रात में बुरी तरह से रौंद रहे हैं।

खेत के चारों ओर लगाए जाने वाला अस्थायी बाड़ किसी काम नहीं आ रहा है। झुंड में पहुंच रहे ये शिकारी सुअर सुबह तक फसलों को व्यापक नुकसान पहुंचा रहे हैं। इनसे भयभीत किसान हाथों में लट्ठ लिए ही खेत की ओर जा पा रहे हैं। किसानों ने वन विभाग से उन सुअरों को नियंत्रित करने या पकड़ने की मांग की है।

अपने खेतों में जाने के लिए कतराते किसान डिगेश साहू, शांतु लाल, रामानंद साहू, परदेशी यादव, शंकर साहू, श्रवण साहू आदि ने बताया कि बंधिया खार, देवरी खार, रहटा खार, सतधारा खार के किसान खेतों में दवा छिड़काव के लिए भी भीड़ की शक्ल में जा रहे हैं। कई बार किसानों को दौड़ा चुके ये सुअर हिंसक होकर हमला भी बोल देते हैं। प्रचलित व्यवस्था के अनुसार अलसुबह और देर शाम किसान खेत में फसल देखने एक बार जाता ही है और इस समय उनमें इन सुअरों का डर बना रहता है।

कौंदकेरा नवापारा - सुअर से फसल नुकसान का जायजा लेते किसान।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nayapararajim

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×