Hindi News »Chhatisgarh »Nayapararajim» हरेली उत्सव: मटका लेकर दौड़ीं महिलाएं, कबड्डी में भी दिखाया उत्साह

हरेली उत्सव: मटका लेकर दौड़ीं महिलाएं, कबड्डी में भी दिखाया उत्साह

भास्कर न्यूज | नवापारा राजिम विरोधियों द्वारा योजनाओं के तहत बांटी जा रही सौगात के विपरीत कांग्रेस ने हरेली के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 04:26 AM IST

  • हरेली उत्सव: मटका लेकर दौड़ीं महिलाएं, कबड्डी में भी दिखाया उत्साह
    +1और स्लाइड देखें
    भास्कर न्यूज | नवापारा राजिम

    विरोधियों द्वारा योजनाओं के तहत बांटी जा रही सौगात के विपरीत कांग्रेस ने हरेली के बहाने नगर की महिलाओं को जोड़ उनके बीच विभिन्न पारंपरिक खेल प्रतियोगिताएं और सांस्कृतिक लोककला के लिए मंच देकर उनके बीच धमाकेदार जगह बनाई। रविवार को महिला कांग्रेस एवं ब्लॉक कांग्रेस ने मंडी परिसर में आयोजित हरेली उत्सव में नगर की पांच हजार से अधिक महिलाओं ने भरपूर आनंद लूटा।

    रविवार अवकाश और सावन की फुहार के बीच अपनी तरह के इस अनूठे आयोजन में नगर की सामान्य और निम्न वर्ग की हजारों महिलाएं शामिल हुईं। इनमें से भाग ले रही महिलाओं ने सभी खेलों में जबर्दस्त प्रदर्शन कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया। पूरे में नगर की विभिन्न महिला समितियों की भागीदारी उल्लेखनीय रही। आयोजन की खूबी यह रही कि सभी प्रतिभागियों को तुरंत पुरस्कारों से सम्मानित भी किया गया।

    विधायक धनेंद्र साहू द्वारा प्रायोजित कार्यक्रम में प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, करुणा शुक्ला, प्रदेश कांग्रेस की अनेक महिला पदाधिकारी, देहुती साहू, रतिराम साहू, यशवंत साहू, ब्लॉक अध्यक्ष धनराज मध्यानी, जीत सिंग, पार्षद स्वर्णजीत कौर, बृजबाला पांडे, सौरभ शर्मा, रामकुमार शर्मा, अल्लू चक्रधारी, शाहिद रजा, शशांक पांडे सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।

    नवापारा राजिम. मटका दौड़ में हिस्सा लेती महिलाएं।

    कबड्डी में विपक्ष के खेमे में ताल ठोकती महिला खिलाड़ी।

    विभिन्न स्पर्धाओं में सैकड़ों प्रतिभागियों ने लिया हिस्सा

    विशाल मंडी परिसर में सुबह 10 बजे से शुरू हुए खेलों के लिए विभिन्न वार्डों की महिलाओं की इतनी अधिक टीमों ने भाग लिए कि एक साथ प्रतियोगिताएं आयोजित करनी पड़ी। मटका दौड़ में 48 टीम, कुर्सी दौड़ में 116, साइकिल दौड़ में 28, गोटा में 39, खो-खो एवं कबड्डी में 21-21 टीमों ने भाग लिया। भारी दर्शकों के बीच प्रतियोगियों की झिझक एक बार दूर हुई तो फिर उनका खिलंदड़पन और खिलखिलाना देखते ही बना।

    रस्सी, चम्मच , केला गेड़ी फुगड़ी खेलकर लौटा बचपन

    इसी तरह रस्सी, चम्मच, केला दौड़ और गेड़ी फुगड़ी प्रतियोगिता में तो महिलाओं का बचपन लौट आया। एक हजार से अधिक महिला प्रतिभागियों ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया।

    मुहावरों पर पकड़ ने अचरज में डाला

    कार्यक्रम के अंत में जनऊला द्वारा महिलाओं का बुद्धि कौशल और ठेठ छत्तीसगढ़ी मुहावरों पर इनकी पकड़ ने मंच पर बैठे अतिथियों को भी अचंभित कर दिया। हरेक जनऊला पर बच्चों से लेकर अधेड़ महिलाएं अपना हाथ उठा जवाब देने तत्पर रहती थी।

  • हरेली उत्सव: मटका लेकर दौड़ीं महिलाएं, कबड्डी में भी दिखाया उत्साह
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nayapararajim

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×