--Advertisement--

जिस सड़क पर होते रहते हैं नक्सली धमाके, उस पर मोटर साइकिल से चले ये सीएम

जब मुख्यमंत्री उस इलाके में पहुंचे तो उन्होंने उस सड़क पर मोटर साइकिल से जाने का फैसला किया।

Dainik Bhaskar

Mar 12, 2018, 07:28 AM IST
मुख्यमंत्री रमन सिंह ने सड़क न मुख्यमंत्री रमन सिंह ने सड़क न

दोरनापाल(छत्तीसगढ़). इंजरम-भेज्जी सड़क पर लगातार नक्सली धमाके होते रहते हैं। नक्सली उस सड़क का निर्माण पूरा नहीं होने देना चाहते इस कारण बारूदी सुरंग लगाकर विस्फोट करते हैं और गोलीबारी करते हैं। बावजूद इसके लोक सुराज अभियान के पहले दिन जब मुख्यमंत्री उस इलाके में पहुंचे तो उन्होंने उस सड़क पर मोटर साइकिल से जाने का फैसला किया। मुख्यमंत्री ने सड़क निर्माण कार्य की समीक्षा करने के लिए ऐसा किया।

सुरक्षा में लगे जवानों का मनोबल बढ़ाने एलान भी किया

वे राजनीतिक संदेश देना चाहते थे कि बस्तर के इस नक्सल प्रभावित दुरूह इलाके का विकास सरकार की प्राथमिकता है। बाद में इंजरम के समाधान शिविर में उन्होंने सुरक्षा में लगे जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए एलान भी किया कि सड़क का नामकरण शहीद जगजीत सिंह के नाम पर होगा। सीआरपीएफ के निरीक्षक जगजीत पिछले साल की 11 मार्च को सड़क की सुरक्षा के दौरान नक्सली हमले में शहीद हो गए थे। इस यात्रा में उनके सारथी थे सिसोदिया तो दूसरी मोटरसाइकिल उनके प्रमुख सचिव अमन सिंह ने संभाली थी।

13 जवान हो चुके हैं शहीद 49 विस्फोटक निकाले गए
लगभग 30 किलोमीटर की दूरी वाली इंजरम-भेज्जी सड़क नक्सलियों के गढ़ में कई टुकड़ों में बनाई जा रही है। ऐसा माना जा रहा है कि इस सड़क के पूरी तरह बन जाने के बाद दक्षिण बस्तर में प्रशासन की पहुंच आसान होगी और नक्सली गतिविधियां कम होंगी। यही वजह है कि बार-बार नक्सली इस सड़क के निर्माण में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं। जगह-जगह बारूदी सुरंग बिछा रखी हैं। अब तक उस सड़क से 49 विस्फोटक निकाला जा चुका है। इसी सड़क पर हुई नक्सली हिंसा में अब तक 13 जवान शहीद हो चुके हैं।

युवक बोला- आई एम वेरी पुअर आपसे कैसे हाथ मिला सकता हूं

सीएम डॉ. रमन सिंह जब कांकेर-लखनपुरी के चारामा ब्लाॅक के बांडाटोला गांव भी पहुंचे। यहां एक युवक खेमराज ने कहा- "मेरे घर में बिजली नहीं है।" इस पर सीएम ने उसे आश्वस्त किया कि 20 मार्च के पहले बिजली लग जाएगी। इसके बाद उन्होंने युवक की तरफ हाथ बढ़ाया तो युवक ने कहा, "आई एम वेरी पुअर, मैं आपसे कैसे हाथ मिला सकता हूं" और झुककर टेबल के नीचे से पैर पड़े। हालांकि, बाद में सीएम ने उससे हाथ भी मिलाया।

X
मुख्यमंत्री रमन सिंह ने सड़क नमुख्यमंत्री रमन सिंह ने सड़क न
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..