--Advertisement--

ओड़िशा पार्सल: मंडप में ही थी धमाके की साजिश, आरोपी रुका था शहर के होटल में

ओडिशा के बलांगीर पटनागढ़ में शादी के मडंप में पार्सल बम से विस्फोट करने वाला रायपुर के होटल में ठहरा था।

Dainik Bhaskar

Mar 09, 2018, 03:16 AM IST
बम ब्लास्ट में दूल्हे की मौके पर ही मौत हो गई थी। बम ब्लास्ट में दूल्हे की मौके पर ही मौत हो गई थी।

रायपुर . ओडिशा के बलांगीर पटनागढ़ में 23 फरवरी को शादी के मंडप में पार्सल बम से विस्फोट करने वाला रायपुर के होटल में ठहरा था। यहीं से वह विस्फोट करने वाला पार्सल बुक कराने कुरियर एजेंसी में गया। पार्सल बुक कराने के बाद वह रायपुर से फरार हुआ। बेंगलुरु में जांच के दौरान ही ओडिशा पुलिस को इनपुट मिला है। उसी के बाद ओडिशा पुलिस की टीम ने दोबारा रायपुर में कैंप किया है। दो दिन से ओडिशा पुलिस यहां के होटलों की जांच कर रही है। कुरियर एजेंसी में बुक कराया गया और वहीं से ओडिशा पहुंचा...


- पुलिस का फोकस स्टेशन इलाके के आस-पास की होटलें हैं। विस्फोट करने वाला पार्सल स्टेशन इलाके की कुरियर एजेंसी में बुक कराया गया और वहीं से ओडिशा पहुंचाया गया। इस वजह से पुलिस को शक है कि आरोपी इसी इलाके के किसी होटल में ठहरा था।

- ओडिशा पुलिस रायपुर क्राइम ब्रांच की मदद से जांच कर रही है। होटलों का रजिस्टर चेक करने के अलावा सीसी टीवी कैमरे के फुटेज देखे जा रहे हैं। इस बार पुलिस की टीम कुरियर एजेंसी के स्टाफ को साथ में लेकर फुटेज देख रही है ताकि वे खुद पार्सल बुक करवाने वाले को देखकर पहचान सकें।

- रजिस्टर की जांच के दौरान देखा जा रहा है कि विस्फाेट के एक-दो दिन पहले और बाद में जितने लोग ठहरे थे, उनमें से किनका ओडिशा से लिंक है। ऐसे लोगों की हिस्ट्री अलग ली जा रही है। उन्हें जांच के दायरे में लेकर बमकांड की जांच करवायी जाएगी।

बम कांड का रायपुर कनेक्शन
- ओडिशा बमकांड का रायपुर से कनेक्शन लगातार बढ़ता जा रहा है। 23 फरवरी को बलांगीर के पटनागढ़ में शादी के मंडप में विस्फोट के बाद दूल्हे सौम्य शेखर की मौत हो गई।

- उसकी दादी और एक अन्य बाराती भी विस्फोट के शिकार हुए, जबकि दुल्हन रीमा साहू गंभीर रुप से घायल हो गई थी। प्रारंभिक जांच में पता चल गया कि पार्सल बम रायपुर की कुरियर एजेंसी से बुक करवाया गया था।

- इस लिंक के बाद पुलिस यहां आई। पार्सल बुकिंग की जांच के दौरान ही एक लड़की की ओर शक गया। वह युवती कुछ अर्सा पहले रायपुर में आकर ठहरी थी।

- करीब चार दिन की पड़ताल के बाद ओडिशा पुलिस की तहकीकात आगे नहीं बढ़ी। उसके बाद पुलिस ने बेंगलुरु जहां शेखर सर्विस करता था, वहां गई।

- वहीं से इस कांड में रायपुर का तीसरा कनेक्शन होटल के रूप में मिला। पुलिस को संकेत मिले हैं कि पार्सल बम बुक करवाने वाला बेंगलुरु से ही यहां आया था।

पारिवारिक और पैतृक प्रापर्टी विवाद के एंगल पर भी जांच
- पार्सल बम से जिस तरह शादी के मंडप में ही सौम्य शेखर और उसकी दुल्हन को मारने की साजिश रची गई, उससे ओडिशा पुलिस को पारिवारिक और पैतृक प्रापर्टी विवाद के एंगल से भी जांच कर रही है।

- पुलिस की जांच में पता चला है कि सौम्य शेखर अपने परिवार का इकलौता बेटा था। उसके परिवार में भी कुछ दिनों से विवाद चल रहा था।

- इस बारे में भी पुलिस को इनपुट मिला है। उसके बाद ही जांच का एंग्ल इस ओर किया गया है।

बम ब्लास्ट के बाद मंडप में बिखर गया था सामान। बम ब्लास्ट के बाद मंडप में बिखर गया था सामान।
दुल्हन रीमा और दूल्हा सौम्य शेखर। दुल्हन रीमा और दूल्हा सौम्य शेखर।
X
बम ब्लास्ट में दूल्हे की मौके पर ही मौत हो गई थी।बम ब्लास्ट में दूल्हे की मौके पर ही मौत हो गई थी।
बम ब्लास्ट के बाद मंडप में बिखर गया था सामान।बम ब्लास्ट के बाद मंडप में बिखर गया था सामान।
दुल्हन रीमा और दूल्हा सौम्य शेखर।दुल्हन रीमा और दूल्हा सौम्य शेखर।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..