Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Dental College Principals Do Wrong Treatment With Women Doctors

डेंटल कॉलेज प्राचार्य करते हैं महिला डॉक्टरों से गलत बर्ताव, कठोर कार्रवाई की सिफारिश

विशाखा कमेटी ने कहा प्राचार्य का बर्ताव महिलाओं के सम्मान के लिए प्रतिकूल।

पीलूराम साहू | | Last Modified - Nov 15, 2017, 07:04 AM IST

  • डेंटल कॉलेज प्राचार्य करते हैं महिला डॉक्टरों से गलत बर्ताव, कठोर कार्रवाई की सिफारिश

    रायपुर।डेंटल कॉलेज स्कैंडल में प्राचार्य डा. बिश्वजीत मिश्रा पर कार्रवाई लगभग तय हो गई है। विशाखा कमेटी की जांच में यह प्रमाणित हो गया है कि प्राचार्य का बर्ताव महिलाओं के सम्मान के प्रतिकूल है। वे महिला डाक्टरों के साथ गलत शब्दों का उपयोग करते हैं। विशाखा कमेटी ने अपनी रिपोर्ट कहा है कि प्राचार्य के द्वारा महिलाओं के लिए अभद्र और निम्न स्तर के शब्दों का उपयोग किया जाता है। कमेटी ने प्राचार्य के खिलाफ उचित और कठोर कार्रवाही की सिफारिश कर दी है।

    - मेडिकल कॉलेज की विशाखा कमेटी ने 9 नवंबर को अपनी रिपोर्ट चिकित्सा शिक्षा संचालक डा. एके चंद्राकर को सौंपी। उन्होंने रिपोर्ट शासन को भेज दी है। हालांकि रिपोर्ट को अब तक उजागर नहीं किया गया है।

    - भास्कर ने रिपोर्ट की कॉपी हासिल कर ली। रिपोर्ट के पांचवे और अंतिम बिंदु पर कमेटी ने अपनी राय दी है। उसी में प्राचार्य के खिलाफ कठोर कार्रवाई की सिफारिश की गई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि मिश्रा ने 8 नवंबर को लिखित बयान दर्ज कराया। यही नहीं वे जानबूझ कर कमेटी के समक्ष बयान देना टाल रहे थे। प्राचार्य ने जो लिखित उत्तर दिया है, वह उनके प्रशासनिक निर्णयों पर आधारित है।

    - कमेटी ने रिपोर्ट में कहा है कि जांच में प्राचार्य के अपशब्द अश्लील शब्द कहे जाने की पुष्टि पुरुष डॉक्टर अन्य स्टाफ ने भी की है। संविदा डॉक्टरों महिला स्टाफ ने कमेटी को लिखित में दिया है कि वे प्राचार्य के खिलाफ बयान कर अपना नाम नहीं दे सकते। इससे उनकी नौकरी जाने का खतरा है। कमेटी ने ऐसे डॉक्टर बाकी स्टाफ का नाम गोपनीय रखा है, जिससे उनकी पहचान सार्वजनिक हो।
    रिपोर्ट मंगवायी है, उसी आधार पर कड़ी कार्रवाई : स्वास्थ्य मंत्री

    स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर का कहना है उन्होंने विशाखा कमेटी रिपोर्ट मंगवायी है। वे खुद उसका अध्ययन करेंगे। उसके आधार पर डाक्टर के खिलाफ आरोप साबित होने पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
    कार्रवाई नहीं, मंत्री से की जाएगी शिकायत
    प्राचार्य के खिलाफ महिला शिकायत करने वाले अन्य डॉक्टरों का आरोप है कि कमेटी की रिपोर्ट के बाद भी चिकित्सा शिक्षा विभाग के आला अफसर कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। यह कई संदेह को जन्म दे रहा है। डॉक्टरों का प्रतिनिधि मंडल बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर से मिलकर कार्रवाई की मांग करेंगे।
    जैसा कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में अंतिम पैरे में लिखा है....
    सभी पक्षों को सुनने के बाद समिति ने यह महसूस करती है कि डा. मिश्रा का व्यवहार महिलाओं केप्रतित उनके सम्मान के प्रतिकूल है एवं उनके द्वारा उपयोग किए गए शब्द महिलाओं हेतु अभद्र एवं निम्न स्तर के हैं जो कि उनके व्यवहार में लिंग भेदभाव प्रदर्शित करते हैं। समिति ने सुझाव दिया है कि शासकीय डेंटल कॉलेज में विशाखा समिति द्वारा प्रदत्त महिलाओं के अधिकार संबंधी सूचना फलक लगाया जाए उपरोक्त तथ्यों को गंभीरता से लेते हुए उचित एवं कठोर कार्रवाही की अनुशंसा की जाती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×