--Advertisement--

दो नक्सलियों को जवानों ने मार गिराया, माओवादियों के बीच खींचतान भी यूं आया सामने

दो नक्सलियों को जवानों ने मार गिराया, माओवादियों के बीच खींचतान भी यूं आया सामने

Dainik Bhaskar

Nov 17, 2017, 06:43 PM IST
1 naxal comander and another member killed in sukma chhattisgarh

सुकमा। कन्हाईगुड़ा और बेलपोंचा के जंगल में शुक्रवार तड़के हुई एक मुठभेड़ में जवानों ने नक्सली बटालियन नंबर एक के दो लड़ाकों को ढेर कर दिया। दस लाख रुपए का ईनामी नक्सली सीता नक्सलियों का हेड क्वार्टर कमांडर और आठ लाख रुपए का ईनामी नक्सली लखमा बटालियन का सदस्य था। मारे गए नक्सलियों के पास से एक ९ एमएम पिस्टल, वॉकी टॉकी सेट, दैनिक उपयोग की सामग्री व नक्सली साहित्य पुलिस ने बरामद किए गए हैं। जानिए पूरी घटना...


- एसपी अभिषेक मीणा ने बताया कि एनकाउंटर में ढेर नक्सलियों की शिनाख्त छोटे लेंड्रा निवासी सोड़ी सीता और चिंतागुफा निवासी सोड़ी लखमा के रुप में हुई है।
- पुलिस के मुताबिक कन्हाईगुड़ा और बेलपोंचा के जंगलों में कोंटा एलओएस और बटालियन के लड़ाकों की छोटी टुकड़ी की मौजूदगी की सूचना के बाद गुरुवार व शुक्रवार की दरम्यानी रात एसटीएफ और डीआरजी के जवानों की संयुक्त टीम रवाना की गई थी।
- शुक्रवार अलसुबह चार बजे जंगल में फोर्स को अपनी ओर बढ़ता देखकर नक्सलियों ने फायरिंग शुरु कर दी। जवानों ने भी मोर्चा संभालकर नक्सलियों पर जमकर गोलीबारी की।
- लगभग आधे घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद नक्सलियों के पैर उखड़ गए और वे जंगल की ओर भाग खड़े हुए।
- गोलीबारी थमने के बाद जवानों ने अंधेरा छंटने का इंतजार किया। सुबह ६ बजे जवानों ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी ली। मौके से दो वर्दीधारी नक्सलियों का शव व हथियार जवानों ने बरामद किए।
- नक्सलियों के शव शुक्रवार की दोपहर जिला मुख्यालय लाए गए। एसपी ने बताया कि नक्सली मुठभेड़ में मारे गए साथियों का शव छोड़कर उनके ऑटोमैटिक हथियार लेकर भागने में सफल हुए।
नक्सलियों के बीच मची खींचतान
- इधर फोर्स को मिली कामयाबी के बाद शुक्रवार की दोपहर तीन बजे पुलिस अधीक्षक के पुराने दफ्तर में पत्रकारों से चर्चा में एसपी ने बताया कि पुलिस का दबाव बढ़ने के बाद नक्सलियों के बीच आपसी खींचतान बढ़ने की खबरें आ रहीं हैं।
- आपरेशन प्रहार एक की सफलता के बाद नक्सलियों के शीर्ष नेताओं ने कई नक्सली कमांडर व लीडरों का प्रमोशन व डिमोशन किया है।
- जिससे नक्सलियों के बीच फूट पड़ गई है। नक्सली अब अपने ही साथियों को ठिकाने लगाने के लिए पुलिस तक सूचनाएं पहुंचा रहे हैं। नक्सलियों के बीच से लगातार निकलकर आ रहीं सूचनाओं की पड़ताल करने के बाद ऑपरेशन चलाए जाने की बात एसपी ने स्वीकार की ।
- उन्होंने कहा कि शुक्रवार को जवानों को मिली सफलता नक्सलियों के बीच चल रही आपसी खींचतान का ही नतीजा है।

X
1 naxal comander and another member killed in sukma chhattisgarh
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..