पलारी

--Advertisement--

मोहान व बल्दाकछार में अब नहीं होगा रेत खनन

ब्लाक के अवैध रेत घाट मोहान में 16 जुलाई को देर रात उत्खनन कर रहे 9 हाइवा 2 चैन माउटेंन सहित 18 लोग महानदी में आये बाढ़ में...

Dainik Bhaskar

Jul 23, 2018, 03:20 AM IST
ब्लाक के अवैध रेत घाट मोहान में 16 जुलाई को देर रात उत्खनन कर रहे 9 हाइवा 2 चैन माउटेंन सहित 18 लोग महानदी में आये बाढ़ में फंस जाने से प्रशासन को लोगों को सुरक्षित निकालने में पसीने छूट आये थे। स्वयं कलेक्टर जेपी पाठक एवं एसपी पुरे अमले के साथ ग्रामीणों की मदद से बचाव के लिए रेसक्यु आपरेशन चला कर लोगों को सुरक्षित निकाला था।

रेत माफिया द्वारा बगैर एनओसी के मोहान घाट को संचालित किया जा रहा था। जिसे गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर जेपी पाठक ने 22 तारीख को जिले के दो घाट को निरस्त करने का आदेश दिया है, जिसमें तहसील पलारी में संचालित मोहान घाट व ग्राम बल्दाकछार तहसील कसडोल रेत खदान को निरस्त करने निर्देश नीरज शर्मा खनिज निरीक्षक को दिये हैं। कलेक्टर द्वारा जारी निर्देश में बताया गया कि ग्राम पंचायत बल्दाकछार तहसील कसडोल में पर्यावरण स्वीकृति पश्चात रेत घाट संचालित है। उक्त रेत घाट में विवाद की स्थिति होने तथा रेत खदान को ठेके में दिये जाने के कारण रेत खदान को निरस्त किया जाता है। इसी प्रकार ग्राम पंचायत मोहान तहसील पलारी में खसरा नंबर 293 रकबा 4.090 हैक्टेयर में रेत घाट घोषित किया गया है, लेकिन बिना पर्यावरण स्वीकृति के 16 जुलाई 2018 को रात में रेत घाट मोहान में मशीनाें द्वारा रेत का अवैध उत्खनन किये जाने के कारण ग्राम पंचायत मोहान में घोषित रेत खदान को निरस्त किया जाता है।

X
Click to listen..